अमेरिका सहित 50 देशों ने बोइंग मैक्स 8 विमानों की सेवाएं रोकी
Thursday, 14 March 2019 18:07

  • Print
  • Email

वाशिंगटन: अमेरिका सहित दुनिया के 50 देशों ने बोइंग 737 मैक्स 8 विमानों को या तो परिचालन से बाहर या प्रतिबंध लगा दिया है और यह कदम इथोपियाई एयरलाइंस के इसी मॉडल के विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद उठाया गया है, जिसमें सवार सभी 157 लोगों की मौत हो गई थी। 'सीएनएन' ने बताया कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने संघीय विमानन प्रशासन (एफएए) के समक्ष बुधवार को मीडिया से यह बात की।

ट्रंप ने कहा, "मैं कोई जोखिम नहीं लेना चाहता था। हमें इस पर आज ही फैसला नहीं करना था। हम इसमें देरी कर सकते थे। लेकिन मुझे लगा कि यह मनोवैज्ञानिक और भी दूसरी वजहों से महत्वपूर्ण है।"

ट्रंप ने कहा कि उनका निर्णय तथ्यों पर आधारित है लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि यह आंशिक रूप से अमेरिकी यात्रियों की मनोवैज्ञानिक हालत का ध्यान रखते हुए किया गया है।

उन्होंने कहा, "अमेरिकी लोगों की सुरक्षा हमारी सर्वोपरि चिंता है।"

एफएए के अनुसार, वैश्विक तौर पर 370 बोइंग 737 मैक्स जेट विमानों में से 74 को अमेरिकी एयरलाइनों द्वारा उड़ाया जाता है। इनमें युनाइटेड एयरलाइंस, साउथवेस्ट एयरलाइंस और अमेरिकन एयरलाइंस शामिल हैं।

अमेरिका द्वारा देश के अंदर विमानों के संचालन को निलंबित करने के फैसले के कुछ ही घंटों बाद मेक्सिको ने भी बुधवार शाम बोइंग 737 मैक्स 8 विमानों के खिलाफ कार्रवाई की।

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय ने कहा कि मैक्सिकन हवाई क्षेत्र में उड़ान भरने वाले विमानों की सुरक्षा की गारंटी की अगली सूचना तक इन पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

वहीं, गुरुवार को दक्षिण कोरिया और थाईलैंड ने भी इन विमानों का परिचालन रोक दिया।

बोइंग 737 मैक्स विमानों का परिचालन रोकने वाले देशों में भारत, चीन, यूरोपीय संघ, ब्रिटेन, कनाडा और आस्ट्रेलिया शामिल हैं।

बता दें कि रविवार को हुई दुर्घटना से कुछ महीने पहले अक्टूबर में इंडोनेशिया में लॉयन एयर का विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ था जिसमें विमान में सवार सभी 189 लोगों की मौत हुई थी।

दोनों ही दुर्घटनाओं में 737 मैक्स के बेड़े के विमान शामिल थे और दोनों ही बिल्कुल नए थे।

--आईएएनएस

 

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss