एप्पल के शेयर गिरने की चिंता नहीं : ट्रंप

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही के अपने राजस्व अनुमानों में कटौती के बाद एप्पल इंक के शेयरों में आई गिरावट को लेकर राष्ट्रपति डोनाल्ट ट्रंप ने कहा है कि वह प्रौद्योगिकी दिग्गज की चिंताओं को लेकर परेशान नहीं हैं। 

सीएनबीसी की रिपोर्ट में शुक्रवार को कहा गया कि ट्रंप ने यह दावा करते हुए कि एप्पल अपने ज्यादातर उत्पाद चीन में बनाती है, व्हाइट हाउस के न्यूज कांफ्रेंस में संवाददाताओं से कहा कि वह एप्पल के शेयरों में गिरावट के अमेरिकी अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले असर से चिंतित नहीं हैं।

एप्पल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी टिम कुक ने बुधवार को निवेशकों को लिखे पत्र में कहा कि 29 दिसंबर को खत्म हो रही तिमाही में कंपनी को अब करी 84 अरब डॉलर राजस्व प्राप्त होने की उम्मीद है, जबकि पहले 89 अरब डॉलर से लेकर 93 अरब डॉलर प्राप्त होने का अनुमान लगाया गया था। 

एप्पल द्वारा आईफोन की उम्मीद से कम बिक्री खासतौर से चीन में कम बिक्री के कारण राजस्व अनुमान घटाने के बाद कंपनी के शेयरों में गिरावट आई।

कुक ने स्वीकार किया कि चीन के साथ अमेरिका के व्यापार तनाव का कंपनी के राजस्व पर असर पड़ा है। इसके अलावा चीन की अर्थव्यवस्था में मंदी से कंपनी का राजस्व प्रभावित हुआ है। 

ट्रंप ने कहा कि एप्पल से अमेरिका से ज्यादा फायदा चीन को होता है। क्योंकि "वे अपने ज्यादातर उत्पाद चीन में बनाते हैं।"

ट्रंप ने कहा, "मैंने (एप्पल के सीईओ) टिम कुक से कहा, जो मेरे मित्र हैं और मैं उन्हें बेहद पसंद करता हूं, कि अपने उत्पाद अमेरिका में बनाएं।"

वहीं, एप्पल का दावा है कि उसके ज्यादातर उत्पाद अमेरिका में बनते हैं, जबकि चीन में सिर्फ असेंबल किया जाता है। 

--आईएएनएस