चीन की जनसंख्या 2030 से घटने लगेगी

चीन की आबादी 2029 में अपने चरम पर होगी और 2030 से घटनी शुरू हो जाएगी। यह जानकारी पीपुल्स डेली में शुक्रवार को प्रकाशित एक रपट में सामने आई है। चाइनीज एकेडमी ऑफ सोशल साइंसेस द्वारा तैयार 'ग्रीन बुक ऑफ पॉपुलेशन एंड लेबर' नामक रपट में कहा गया है कि चीन की आबादी 1.44 अरब होगी और उसके बाद के वर्ष से घटनी शुरू होगी।

समाचार एजेंसी एफे ने अखबार के हवाले से कहा है कि चीन की आबादी 2050 में घटकर 1.36 अरब और 2065 में 1.25 अरब होने की संभावना है, जितनी 1999 में थी।

अखबार के अनुसार, रपट में हालांकि कहा गया है कि यदि कुल जन्मदर 1.6 पर बनी रहती है तो 2027 में नकारात्मक जनसंख्या वृद्धि शुरू हो सकती है। यह कुल 1.17 अरब हो सकती है, जो वर्ष 1990 की आबादी के बराबर होगी।

चीन को जनसांख्यिकी के जोखिमों के बारे में पता है और उसने बूढ़ी आबादी से बचने के लिए 2015 से एक बच्चे की नीति समाप्त करने, दूसरे बच्चे की अनुमति देने के कदम उठाए हैं। 

वर्ष 2017 में दूसरे बच्चों की संख्या 88.3 लाख हो जाएगी। 

हालांकि विशेषज्ञों ने हाल ही में चेताया था कि चीन में 2018 में जन्म की संख्या 2000 से लेकर सबसे कम रही। वर्ष 2018 में कोई 1.50 करोड़ जन्म वर्ष 2017 की तुलना में लगभग 15 प्रतिशत गिरावट का संकेत करते हैं।

--आईएएनएस