एनबीसी, फॉक्स न्यूज ने ट्रंप के रंगभेदी विज्ञापन हटाए

एनबीसी और फॉक्स न्यूज ने एक बयान में कहा कि उनका नेटवर्क अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अभियान के अप्रवासन-रोधी विज्ञापन का प्रसारण नहीं करेगा। प्रसारकों ने 30 वर्षों में इसे सर्वाधिक रंगभेदी राजनीतिक विज्ञापन करार दिया। सीएनएन के अनुसार, यह विज्ञापन पिछले सप्ताह जारी किया गया था। इसमें एक मेक्सिकन व्यक्ति लुइस ब्रासेमेंटेस को दिखाया गया है, जिसे पहले निर्वासित कर दिया गया था और बाद में अमेरिका को लौटा दिया गया। लुइस को फरवरी में कैलिफोर्निया के दो पुलिस(डिप्टीज) की हत्या के लिए दोषी ठहराया गया था।

लुइस को अदालत में यह कहते हुए दिखाया जा रहा है, "मैं जल्द ही और पुलिस को मारने वाला हूं।"

इसी समय स्क्रीन पर कैप्शन में दिखाया गया है कि, 'डेमोक्रेट इसे हमारे देश में लाए हैं। डेमोक्रेट ने इसे हमारे देश में रहने दिया।'

एनबीसी ने सोमवार को सबसे पहले इस बदलाव की घोषणा की।

एनबीसी ने अपने बयान में कहा, "इस बारे में समीक्षा करने के बाद, हमने विज्ञापन की असंवेदनशीलता को पहचाना और जल्द से जल्द इसका प्रसारण रोकने का निर्णय लिया।"

फॉक्स के एड सेल्स के अध्यक्ष मारियान्ने गमबेल्ली ने सीएनएन को एक विज्ञापन में कहा, "समीक्षा के बाद, फॉक्स न्यूज ने विज्ञापन को हटा दिया और यह फॉक्स न्यूज चैनल या फॉक्स बिजनेस नेटवर्क पर यह विज्ञापन नहीं दिखेगा।"

विज्ञापन हटाने से पहले फॉक्स न्यूज और फॉक्स बिजनेस पर इसका प्रसारण दर्जनों बार किया गया।

फेसबुक पर भी ट्रंप के अभियान को अपने प्लेटफार्म पर दिखाने के लिए उसकी आलोचना हुई है।

कंपनी ने सोमवार दोपहर कहा, "यह विज्ञापन फेसबुक की संवेदनशील सामग्री के विरुद्ध विज्ञापन नीति का उल्लंघन करता है, इसलिए हम इसे खारिज कर रहे हैं।"

राष्ट्रपति से सोमवार रात जब इस विवाद के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कहा, "मैं इस बारे में नहीं जानता। मेरा मतलब, आप मुझसे कुछ ऐसा पूछ रहे हो, जिसके बारे में मैं नहीं जानता। हमारे पास कई सारे विज्ञापन हैं और जितना संख्या हम देख रहे हैं, उस आधार पर वह निश्चित ही प्रभावशाली हैं।"

विज्ञापन के आपत्तिजनक प्रकृति के बारे में पूछे जाने पर, ट्रंप ने कहा, "कई सारी चीजें आपत्तिजनक हैं। कई बार आपके प्रश्न भी आपत्तिजनक होते हैं।"

--आईएएनस

POPULAR ON IBN7.IN