युद्ध की धमकियों के बाद मई में उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन से मिलेंगे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

वाशिंगटन: नॉर्थ कोरिया और अमेरिका के बीच अब बातचीत के आसार दिखने लगे हैं. नॉर्थ कोरिया के तानाशाह नेता किम जोंग उन ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को बातचीत के लिए कहा है और खबर है कि राष्ट्रपति ट्रंप, किम जोंग की बात को मान गये हैं और उम्मीद की जा रही है कि मई तक वह नॉर्थ कोरिया के तानाशाह से मिलेंगे. यह जानकारी दक्षिण कोरिया के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने व्हाइट हाउस में अमेरिकी राष्ट्रपति को निमंत्रण देने के बाद दी. बता दें कि ये दोनों देश एक-दूसरे को युद्ध की धमकी भी दे चुके हैं. 

एसोसियेट प्रेस की रिपोर्ट की मानें तो नॉर्थ कोरिया के निमंत्रण को स्वीकार करते हुए डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि वह मई तक नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन से मुलाकात करेंगे. दक्षिण कोरिया के नेशनल सुरक्षा सलाहकार चुंग योंग ने कहा कि नॉर्थ कोरिया का तानाशाह परमाणु और मिसाइल परीक्षण को रोकने के लिए प्रतिबद्ध है. 


नॉर्थ कोरिया का यह कदम अमेरिका के साथ-साथ दुनिया के लिए स्वागतयोग्य होगा, क्योंकि कुछ समय पहले ही उत्तर कोरिया ने अंतर-महाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल (आईसीबीएम) के लिए डिजाइन किए गए एक इंजन का सफलतापूर्वक परीक्षण किया था, जिससे उसे अमेरिकी भूभाग पर परमाणु हमला करने की क्षमता हासिल हो गई है. 

नॉर्थ कोरिया और अमेरिका के बीच होने वाली यह वार्ता इसलिए भी अहम होगी क्योंकि दोनों देशों के बीच अक्सर तनातनी बनी रहती है. नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन के आक्रामक परमाणु कार्यक्रम से कोरियाई प्रायद्वीप में अक्सर तनाव का माहौल रहता है. इतना ही नहीं, अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप और किम जोंग उन के बीच तीखी जुबानी जंग भी हो चुकी है. दोनों एक-दूसरे के खिलाफ युद्ध की धमकियां भी दे चुके हैं. 

ट्रंप और किम जोंग के बीच यह मुलाकात दक्षिण कोरिया के लिए भी अच्छी खबर है. क्योंकि कि दक्षिण कोरिया और नॉर्थकोरिया के बीच भी अक्सर तनाव का माहौल रहता है. हालांकि, दक्षिण कोरिया में हुए विंटर ओलिंपिक ने दोनों देशों के बीच की कड़वाहट को कम करने का काम जरूर किया था. इस दौरान नॉर्थ कोरिया ने साउथ किरिया में अपनी टीम भेजी थी और इस खेल में भाग लिया था. 

POPULAR ON IBN7.IN