कोर्ट ने बोस्टन मैराथन में बम विस्फोट के दोषी की मौत की सजा पलटी
Saturday, 01 August 2020 14:18

  • Print
  • Email

बोस्टन: अमेरिका की एक संघीय अपील अदालत ने दोजखर त्सरनेव की मौत की सजा को पलट दिया है। उसने अपने भाई के साथ मिलकर 2013 की बोस्टन मैराथन की फिनिश लाइन के पास घर का बना बम लगाया था। इसमें तीन दर्शक मारे गए थे और सैकड़ों लोग घायल हुए थे। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, बोस्टन में पहले यूएस स*र्*ट कोर्ट ऑफ अपील के तीन-जजों के पैनल ने शुक्रवार को फैसला सुनाते हुए कार्यवाही में त्रुटियों का हवाला दिया और मौत की सजा की निंदा की।

हालांकि शासन त्सरनेव को मुक्त नहीं होने देगा और उसकी मौत की सजा पर फिर से विचार किया जा सकता है।

शासन के बयान के एक अंश के अनुसार, "त्सरनेव अपने पूरे जीवनकाल में जेल में बंद रहेगा।"

27 साल के त्सरनेव को 15 अप्रैल, 2013 को बोस्टन मैराथन में प्रेशर कुकर बम लगाने के लिए साजिश रचने और उसे सामूहिक विनाश के एक हथियार के इस्तेमाल करने समेत 30 आरोपों के लिए दोषी ठहराया गया था। वह अभी पश्चिमी राज्य की जेल में अपनी सजा काट रहा है।

बम विस्फोट में तीन लोगों की मौत हुई थी और 260 से अधिक घायल भी हो गए थे।

हमले के तीन दिन बाद पुलिस के साथ मुठभेड़ में उसके भाई तैमरलेन की मृत्यु हो गई थी ।

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss