पेरिस में पीएम मोदी बोले, नए भारत में भ्रष्टाचार, तीन तलाक व भाई भतीजावाद के लिए कोई जगह नहीं
Friday, 23 August 2019 08:03

  • Print
  • Email

पेरिस: फ्रांस की राजधानी पेरिस में जी 7 समिट में हिस्सा लेने पहुंचे पीएम मोदी ने शुक्रवार को यूनेस्को मुख्यालय में भारतीयों को संबोधित किया। कार्यक्रम में शामिल होने के लिए जैसे ही पीएम मोदी स्टेज पर पहुंचे, लोगों ने मोदी-मोदी के नारे लगाना शुरू कर दिया। इस दौरान लोगों को काफी समझाने की कोशिश की गई, लेकिन लोग लगातार मोदी-मोदी के नारे लगाते रहे। इसके बाद पीएम मोदी ने खुद कहा कि पहले राष्ट्रगान होगा। इसके बाद लोग शांत हो गए।

कश्मीर मुद्दे और अनुच्छेद 370 पर इशारा करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि अब देश में टेंपरेरी की कोई जगह नहीं है, गांधी और बुद्ध के देश में टेंपरेरी को निकालते-निकालते 70 साल चले गए। मुझे यह समझ मेंं नहींं आ रहा है कि इस पर हंसना है या रोना। पीएम मोदी ने भारत और फ्रांस की दोस्ती का जिक्र करते हुए कहा कि दोनों देश अच्छे दोस्त हैं। दोनों देशों की दोस्‍ती मित्रता से भी ऊपर है। अच्छे दोस्त का मतलब होता है सुख-दुख का साथी। साथ ही, दोनों देशों की दोस्ती पर उन्होंने कहा कि फ्रांस के फुटबॉल में वर्ल्ड चैंपियन बनने पर भारत ने भी जमकर जश्न मनाया था।

प्रधानमंत्री ने लोगों को जन्माष्टमी की बधाई दी। उन्होंने आगे कहा कि मुझे बताया गया है कि गणपति महोत्सव पेरिस के cultural calendar की मुख्य विशेषता बन गया है। अब से कुछ दिनों में लोग यहां गणेश चतुर्थी मनाएंगे और पेरिस की सड़कें गणपति मोरया से गूंजेंगी। उन्होंने फ्रांस में बसे भारतीयों को उनके योगदान के लिए सराहा। 

REFORM PERFORM AND TRANSFORM का नारा देते हुए कहा कि देश अब इस राह पर चल पड़ा है और जल्द ही मंजिल को भी प्राप्त करेगा। आज 21 वीं सदी में हम इन्फ्रा की बात करते हैं। मैं कहना चाहूंगा कि मेरे लिए ये IN + FRA है, जिसका अर्थ है भारत और फ्रांस के बीच गठबंधन। 

उन्होंने पहले विश्व युद्ध का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि 9000 भारतीय सैनिकों ने जान दी थी। यहां रहने वाले हर भारतीय को ये आंकड़ा नहीं भूलना चाहिए। फासीवाद का मुकाबला भारत और फ्रांस ने साथ-साथ किया है। भारत और फ्रांस आज सोलर से लेकर कई अन्य क्षेत्रों में एक साथ आगे बढ़ रहे हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि नए भारत में भ्रष्टाचार, तीन तलाक और भाई भतीजावाद के लिए कोई जगह नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने इस पर रोक लगा दी है। संबोधन के दौरान पीएम मोदी के नाम के नारे लगता रहे। लोगों ने नारे लगाते हुए कहा कि एक बार फिर मोदी सरकार। पीएम ने कहा कि हमें जनादेश सिर्फ सरकार चलाने के लिए नहीं मिला, बल्कि लोगों की सेवा करने के लिए मिला है। उन्होंने ये भी कहा कि नेता वादा कर भूल जाते हैं। मैं उस बिरादरी का नहीं हूं। साथ ही, उन्होंने पेरिस में विमान हादसों में जान देने वालों को श्रद्धांजलि भी दी। 

पीएम मोदी ने कहा कि नई सरकार को बने अभी ज्यादा दिन नहीं हुए है। हमने समय बर्बाद नहीं किया और कई बड़े फैसले लिए। सरकार बनने के साथ जल शक्ति नाम का नया मंत्रालय बना दिया गया, जो जल समस्या संबंधित समस्याओं का समाधान करेगा।

पीएम मोदी ने कहा कि आज अगर भारत और फ्रांस दुनिया के बड़े खतरों से लड़ने में नजदीकी सहयोग कर रहे हैं, तो उसका कारण भी यह साझा मूल्य ही है। फिर चाहे वह आतंकवाद हो या जलवायु परिवर्तन। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र के मूल्यों को इन खतरों से बचाने की हमारी साझा जिम्मेदारी है। दोनों ही देशों ने इसे भलीभांति से स्वीकार भी किया है। 

 

 

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.