पत्नी और तीन बच्चियों को मार फ्रिज और अलमारी में भर दी लाश
Tuesday, 21 August 2018 12:08

  • Print
  • Email

घरेलू विवाद में पांच लोगों की जान चली गई। एक क्रूर पति की हैवानियत से भरी दिल दहला देने वाली यह दास्तान उत्तरप्रदेश के इलाहाबाद की है। जानकारी के मुताबिक मनोज कुशवाहा अपनी पत्नी श्वेता और तीन बच्चियों के साथ धूमनगंज इलाके के पीपल गांव में रहता था। बीते रविवार (19-08-2018) की शाम मनोज का अपनी पत्नी के साथ किसी बात को लेकर विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ गया कि मनोज गुस्से से आग बबूला हो उठा। तिलमिलाए मनोज ने सबसे पहले अपनी पत्नी की हत्या कर दी। इसके बाद उसने अपनी तीनों बेटियों प्रीति (उम्र 8 साल), श्रेया (उम्र 6 साल) और शिवानी (उम्र 3 साल) की भी हत्या कर दी। हत्या के बाद मनोज ने अपनी पत्नी श्वेता की लाश को फ्रिज में रख दिया। बड़ी बेटी और शिवानी का शव उसने अलमारी में बंद कर दी तथा श्रेया की लाश को जमीन पर ही छोड़ दिया। इतना ही नहीं 4 हत्याएं करने के बाद मनोज ने खुद पंखे से झूलकर आत्महत्या भी कर ली।

जिस वक्त मनोज और उसकी पत्नी के बीच झगड़ा हुआ और जब मनोज ने एक-एक कर चार लोगों को मौत के घाट उतारा उस वक्त घर में टीवी की आवाज काफी तेज थी। लिहाजा पड़ोस में रहने वाले लोगों को इस बात की भनक तक नहीं लगी। अगले दिन सोमवार की शाम मनोज के पिता गुलाब कुशवाहा जब अपने बेटे के घर पहुंचे तो उन्हें घर के अंदर से टीवी की काफी तेज आवाज सुनाई दी। काफी देर तक दरवाजा नहीं खुलने पर उन्होंने ग्राम प्रधान को इस बारे में बतलाया जिसके बाद तुरंत पुलिस को खबर दी गई।

पुलिस ने जब मनोज के घर का दरवाजा खोला तो वहां खौफनाक मंजर देख सभी के होश फाख्ता हो गए। पेशे से किसान मनोज ऐसी वारदात को अंजाम दे सकता है यह यकीन आसपास के लोगों के लिए करना मुश्किल था। इन लोगों का कहना है कि मनोज का अक्सर अपनी पत्नी के साथ विवाद होता रहता था। बहरहाल पुलिस की फॉरेंसिक टीम ने मौका-ए-वारदात से छानबीन के बाद कई सारे तथ्य जुटाए हैं। जिसके आधार पर प्रारंभिक जांच में यह माना जा रहा है कि मनोज ने अपनी पत्नी और बच्चियों की हत्या के बाद सुसाइड कर लिया। शुरुआती जांच में यह भी सामने आया है कि मनोज ने अपनी बेटियों को ज़हर दिया है। फिलहाल पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है।

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss