अयोध्या का हवाईअड्डा भगवान राम के नाम पर, कैबिनेट से मिली मंजूरी
Tuesday, 24 November 2020 22:16

  • Print
  • Email

लखनऊ: अध्योध्या में निर्माणाधीन हवाईअड्डे का नाम भी भगवान श्रीराम के नाम पर होगा। हवाईअड्डे का नामकरण 'श्रीराम हवाईअड्डा' किए जाने का प्रस्ताव को मंगलवार को कैबिनेट से मंजूरी मिल गई। इस संबंध में विधानसभा में पारित कराने के लिए प्रस्ताव के मसौदे को मंजूरी दी गई है। उसके बाद प्रस्ताव नागर विमानन मंत्रालय, भारत सरकार को प्रेषित करने का निर्णय भी लिया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्व में ही अयोध्या में प्रस्तावित एयरपोर्ट का नाम मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम हवाईअड्डा रखने की घोषणा कर दी थी। बीते साल नवंबर में नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने संसद में बताया था कि एएआई को उत्तर प्रदेश सरकार से अयोध्या हवाईअड्डे से संबंधित प्रस्ताव मिला है। यह हवाईपट्टी एनएच-27 और एनच-330 के बीच सुल्तानपुर नाका के पास है। इसी हवाईपट्टी को आधुनिक एयरपोर्ट का रूप दिया जा रहा है।

अयोध्या में हवाईपट्टी को अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे का आकार देने के लिए तेजी से कार्य किया जा रहा है। इस हवाईपट्टी को बड़े विमानों के लिए तैयार किया जा रहा है। एएआई ने पूर्व में ही प्री-फिजिबिलटी स्टडी पूरी कर ली है। इसके अनुसार, राज्य सरकार अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट के लिए लगभग 600 एकड़ भूमि भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण को उपलब्ध कराएगी। हवाईपट्टी को एयरपोर्ट के रूप में विकसित करने एवं अन्य आवश्यक निर्माण कार्यो के लिए 525 करोड़ रुपये की मंजूरी दी गई है। मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम एयरपोर्ट के पूर्व के मास्टर प्लान के अनुसार राज्य सरकार ने 263.47 एकड़ भूमि खरीदने के लिए 525.91 करोड़ रुपये खर्च किए हैं।

ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार रामनगरी अयोध्या को नंबर वन धार्मिक पर्यटन डेस्टिनेशन के रूप में विकसित कर रही है। श्रीराम मंदिर निर्माण के साथ अयोध्या के विकास को पंख लगने वाले हैं। योगी सरकार यहां एयरपोर्ट निर्माण के कार्य करा रही है। एयरपोर्ट बन जाने से अयोध्या के साथ इसके आस-पास के पर्यटन स्थल भी विकसित होंगे।

--आईएएनएस

वीकेटी/एसजीके

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss