एसआईटी कानपुर में 'लव जिहाद' के कई मामलों की करेगी जांच
Tuesday, 15 September 2020 13:49

  • Print
  • Email

कानपुर: कानपुर पुलिस ने शादी के बहाने जबरन धर्म परिवर्तन के कई मामलों में आरोपों की जांच के लिए आठ सदस्यीय विशेष जांच टीम (एसआईटी) का गठन किया है। इसी जिले से पिछले एक महीने में 'लव जिहाद' के लगभग 11 मामले सामने आने के बाद यह निर्णय लिया गया और हिंदू संगठनों ने कानपुर के आईजी मोहित अग्रवाल से मुलाकात कर मामले की जांच की मांग की।

कानपुर में एक महिला शालिनी यादव के जुलाई में एक मुस्लिम व्यक्ति फैजल से शादी करने के बाद यह मुद्दा गरमाया।

कथित तौर पर लड़की के परिवार ने लव जिहाद का आरोप लगाया, हालांकि दंपति ने जबरन धर्म परिवर्तन के आरोपों से इनकार करते हुए दिल्ली की एक अदालत का दरवाजा खटखटाया। शालिनी ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो भी अपलोड किया, जिसमें दावा किया कि उसने शादी कर ली है और अपनी मर्जी से धर्म परिवर्तन किया।

अधिकारी ने कहा कि कानपुर (दक्षिण) के पुलिस अधीक्षक दीपर भुकर की अगुवाई में एसआईटी को कथित घटनाओं के पीछे किसी निश्चित पैटर्न या कार्य प्रणाली को देखने के लिए कहा गया है।

विशेष जांच टीम (एसआईटी) ऐसे मामलों में इस्लामी संगठनों की कथित भूमिका की भी जांच करेगी।

दिलचस्प बात यह है कि कथित लव जिहाद के ज्यादातर मामले जूही इलाके से सामने आ रहे हैं। एक अधिकारी ने कहा कि अगर किसी भी इस्लामिक संगठन की कानपुर में 'लव जिहाद' रैकेट की फंडिंग में भूमिका है, तो एसआईटी जांच करेगी।

अधिकारी ने दावा किया, "इस बात की काफी हद तक संभावना है कि कुछ इस्लामिक संगठन इस तरह के राष्ट्र विरोधी कृत्यों में शामिल मुट्ठी भर संगठनों को वित्तीय सहायता प्रदान कर रहे हों।" पुलिस यह पता लगाने के लिए साजिश के साजिश के पहलू पर गौर कर रही है कि क्या इसमें शामिल युवकों को विदेश से पैसे भेजे जा रहे हैं।

एसपी दीपक भुकर ने कहा कि निगरानी के लिए विशेष स्वाट टीम की मदद मांगी गई है।

उन्होंने कहा कि एसआईटी ने स्थानीय पुलिस थानों से संपर्क किया है और पिछले दो वर्षों में दर्ज सभी कथित 'लव जिहाद' मामलों का विवरण मांगा है।

भुकर ने कहा कि जांच टीम लिंक साबित करने के लिए एक दर्जन फोन नंबरों से संबंधित रिकॉर्ड निकाल रही है।

भुकर ने कहा कि वे ऐसे जोड़ों, उनके बैंक खातों और उनके परिवार के सदस्यों के बयान दर्ज कर रहे हैं। उनके सहयोगियों के फोन नंबर भी निकाले गए हैं।

हालांकि, भुकर ने शालिनी यादव से जुड़े मामले में कहा कि दंपति ने दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था और बाद में आरोपों से इनकार करते हुए राष्ट्रीय राजधानी में तीस हजारी अदालत में मजिस्ट्रेट के सामने पेश हुए।

उन्होंने कहा कि महिला ने कहा था कि उसने अपनी पसंद के शख्स से शादी की है।

उन्होंने कहा कि पुलिस के पास इस मामले (शालिनी के) में करने के लिए कुछ भी नहीं है, जल्द ही अदालत में एक क्लोजर रिपोर्ट भेजी जाएगी।

कानपुर पुलिस ने एक कथित 'लव जिहाद' मामले में दो लोगों -- मोहसिन खान और आमिर को गिरफ्तार भी किया है। अधिकारी ने कहा कि मोहसिन खान ने कथित तौर पर खुद को समीर के रूप में पेश करते हुए एक लड़की से दोस्ती की और फिर उससे शादी कर ली थी।

--आईएएनएस

वीएवी-एसकेपी

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.