रोगी के परिजनों को हर दिन दें जानकारी : योगी
Monday, 29 June 2020 17:12

  • Print
  • Email

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को कहा कि 24 घंटे में कम से कम एक बार परिजनों को रोगी के स्वास्थ्य की जानकारी आवश्य दी जाए। मुख्यमंत्री योगी यहां लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। कोरोना संक्रमण तथा वर्षा ऋतु में संचारी रोगों के प्रसार के ²ष्टिगत उन्होंने इस संबंध में प्रभावी कार्यवाही किए जाने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि डॉक्टर एवं नर्सिग स्टाफ नियमित राउंड लें। पैरामेडिक्स द्वारा रोगियों की लगातार मॉनिटरिंग की जाए। 24 घंटे में कम से कम एक बार मरीज के परिजनों को रोगी के स्वास्थ्य की जानकारी आवश्य दी जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड चिकित्सालयों में व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरुस्त रखा जाए और बेड बढ़ाए जाएं। उन्होंने प्रत्येक जनपद में ऑक्सीजन की सुचारु आपूर्ति एवं उपलब्धता बनाए रखने के निर्देश दिए। '108', '102' तथा एएलएस एम्बुलेंस सेवाओं को पूरी तरह सक्रिय रखा जाए। एम्बुलेंस में ऑक्सीजन की व्यवस्था अनिवार्य रूप से सुनिश्चित की जाए।

योगी ने कहा कि टेस्टिंग क्षमता बढ़ाने के लिए विभिन्न संस्थानों में उपलब्ध संसाधनों का पूरा उपयोग किया जाए। ट्रनैट मशीनों तथा रैपिड एन्टीजेन टेस्ट मशीनों को पूरी क्षमता से संचालित करते हुए ज्यादा से ज्यादा टेस्ट किए जाएं। संक्रमण पर नियंत्रण के लिए निजी चिकित्सालयों में ट्रेूनैट मशीनों के प्रयोग के बढ़ावा दिया जाए।

उन्होंने कहा कि सभी विभागों एवं संस्थाओं में कोविड हेल्प डेस्क स्थापित की जाए। निजी चिकित्सालयों को हेल्प डेस्क की स्थापना के लिए प्रेरित किया जाए। ओपीडी संचालित करने वाले अस्पताल में कोविड हेल्प डेस्क अनिवार्य रूप से स्थापित हो।

उन्होंने स्वास्थ्य विभाग तथा चिकित्सा शिक्षा विभाग को सर्विलांस व्यवस्था सु²ढ़ करने के निर्देश दिए और कहा कि इसे सुचारु ढंग से लागू करते हुए इन्सेफेलाइटिस पर प्रभावी रोक लगाई जा सकती है। उन्होंने सर्विलांस के दौरान सर्विलांस टीम द्वारा घर-घर कोविड-19 से बचाव के संबंध में हैंडबिल भी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने 1 से 31 जुलाई, 2020 तक संचालित किए जाने वाले सचांरी रोग नियंत्रण अभियान की तैयारियों की भी समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिए कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र आदि को संचारी रोग के संबंध में सतर्क रखा जाए।

योगी ने कहा कि संचारी रोगों को नियंत्रित करने में जागरूकता की महत्वपूर्ण भूमिका है। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों, चौराहों, बाजार आदि प्रमुख स्थलों पर इस संबंध में होर्डिग तथा पोस्टर लगाए जाएं।

उन्होंने कहा कि इस अभियान में सभी सरकारी विभागों तथा निजी कार्यालयों की सक्रिय सहभागिता सुनिश्चित कराई जाए। फॉगिंग तथा एंटी-लार्वा रसायनों का छिड़काव प्रभावी ढंग से किया जाए।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि समय से पहले मानसून आने के ²ष्टिगत बाढ़ नियंत्रण के संबंध में पूरी सतर्कता बरती जाए। बाढ़ राहत शिविर समय से तैयार कर लिए जाएं।

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss