उप्र के प्रमुख गृह सचिव बोले, दुराचारियों पर हो सख्त कार्रवाई
Monday, 08 April 2013 11:30

  • Print
  • Email

उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव (गृह) आर.एम. श्रीवास्तव ने प्रदेश में महिलाओं और किशोरियों के साथ दुराचार व सामूहिक दुराचार की घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए आदेश जारी किया है कि इन मामले के आरोपियों के खिलाफ कठोर से कठोर कार्रवाई की जाए। (22:08) 

रविवार को जारी आदेश में कहा गया है कि ऐसे मामले में पुलिस पीड़ित पक्ष का धारा 164 में बयान दर्ज करे और वैज्ञानिक साक्ष्यों की मदद से जल्द से जल्द विवेचना पूरी करके आरोपियों के खिलाफ न सिर्फ कार्रवाई करे, बल्कि उनको सजा दिलाने के मामले में अदालत में भी पैरवी करे।

प्रमुख सचिव (गृह) ने बताया कि अलीगढ़ में घर के बाहर खेल रही दो व ढाई साल की बालिकाओं को बाजरे के खेत में ले जाकर दुष्कर्म किए जाने की घटना में एटा जनपद के राम सिंह तथा मुजफ्फरनगर के क्वारसी निवासी दिवारी लाल थाना के विरुद्ध राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई की गई है। ऐसे ही कई अन्य मामलों में भी रासुका के तहत कार्रवाई की गई है।

श्रीवास्तव ने कहा कि महिलाओं के विरुद्ध होने वाले अपराधों के प्रति पुलिस महकमा अत्यंत संवेदनशील है। उन्होंने बताया कि पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि जहां कहीं भी महिला उत्पीड़न के मामलों में पुलिस द्वारा कार्रवाई मे ढिलाई या लापरवाही के प्रकरण प्रकाश में वहां पर कड़ी दंडात्मक कार्रवाई की जाए।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss