मोबाइल ग्राहकों की संख्या 102.55 करोड़
Friday, 04 January 2019 09:46

  • Print
  • Email

देश में निजी सेवा प्रदाताओं के मोबाइल ग्राहकों की संख्या नवंबर में बढ़कर 102.55 करोड़ हो गई। देश के दूरसंचार, इंटरनेट, टेक्नॉलजी और डिजिटल सेवाओं की कंपनियों की शीर्ष निकाय सीओएआई (सेलुलर्स ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया) ने गुरुवार को जारी आकंड़ों में यह जानकारी दी है। 

आंकड़ों के मुताबिक, देश के निजी दूरसंचार सेवा प्रदाताओं (जो सीओएआई के सदस्य हैं) के ग्राहकों की कुल संख्या पिछले साल नवंबर में बढ़कर 102.55 करोड़ हो गई है। इन आकंड़ों में रिलायंस जियो के ग्राहकों के 2018 के अक्टूबर के आंकड़े शामिल है। वहीं, इनमें सरकारी दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनियों बीएसएनएल और एमटीएनएल तथा टाटा और ऑरकॉम के ग्राहकों के आंकड़े शामिल नहीं है। 

निजी कंपनियों में वोडाफोन आइडिया लि. शीर्ष पर रही और उसके कुल ग्राहकों की संख्या 42.10 करोड़ रही, जिसमें वोडाफोन के 21.59 करोड़ और आइडिया के 20.50 करोड़ ग्राहक शामिल हैं। दूसरे नंबर पर भारती एयरटेल रही, जिसके कुल 31.47 करोड़ ग्राहक है। जबकि रिलायंस जियो इंफोकॉम तीसरे नंबर पर रही और उसके कुल 26.27 करोड़ ग्राहक हैं।  

रिपोर्ट में बताया गया कि देश के अलग-अलग सर्किल में यूपी (पूर्व) के ग्राहकों की संख्या लगातार सबसे अधिक बनी हुई है, जोकि नवंबर में 8.73 करोड़ रही। उसके बाद महाराष्ट्र में 8.51 करोड़ रही। 

सीओएआई के महानिदेशक राजन एस. मैथ्यू ने कहा, "साल 2018 दूरसंचार क्षेत्र के लिए महत्वपूर्ण साल रहा। क्योंकि इसी साल 5जी और अन्य प्रौद्योगिकी जैसे -एम2एम, आईओटी, एआई, एआर और वीआर को वाणिज्यिक रूप से लागू करने की तैयारियां शुरू की गई। देश में विश्वस्तरीय दूरसंचार अवसंरचना तैयार करने पर पहले ही 10.4 लाख करोड़ रुपये की भारीभरकम रकम खर्च की जा चुकी है। सभी दूरसंचार ऑपरेटर एक सशक्त भारत, वैश्विक डिजिटल-संचालित ज्ञान अर्थव्यवस्था बनाने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं।" 

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.