सुंदर पिचाई ने 'मेवन' परियोजना को लेकर पेंटागन अधिकारियों से मुलाकात की

गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने पिछले सप्ताह वाशिंगटन दौरे के दौरान पेंटागन के अधिकारियों से मुलाकात की। इस दौरान संभावित रूप से कंपनी की विवादित परियोजना 'मेवन' पर चर्चा की गई। 

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) के दुरुपयोग की आशंकाओं की वजह से यह विवादों में बनी हुई है। 

द वाशिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, पिचाई ने रक्षा विभाग के निदेशालय के डिफेंस फॉर इंटेलिजेंस के अंडर सेक्रेटरी कार्यालय के अधिकारियों से मुलाकात की। 

हालांकि, अभी गूगल ने इस पर कोई बयान नहीं दिया है।

'मेवन' परियोजना को लेकर पिचाई ने जून में जोर देकर कहा था कि कंपनी उन प्रौद्योगिकियों पर काम नहीं करेगी, जिससे देश की सुरक्षा को खतरा हो।

गूगल के लगभग 4,000 कर्मचारियों ने एक याचिका पर हस्ताक्षर करते हुए एक नई पॉलिसी बनाने की मांग की है।

इस गुस्से के बाद गूगल ने अमेरिकी रक्षा विभाग के साथ मिलकर इस परियोजना को रिन्यू नहीं करने का फैसला किया।

अप्रैल 2017 में अमेरिकी रक्षा विभाग और गूगल के बीच अप्रैल 2017 में मेवेन परियोजना को लेकर सहमति बनी थी। इसके तहत गूगल, पेंटागन को ऐसी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और मशीन लर्निग टेक्नोलॉजी देनी वाली थी, जिसके जरिए फोटो से ही किसी भी शख्स की पहचान की जा सके।

--आईएएनएस 

 

POPULAR ON IBN7.IN