Print this page

देश का आईटी पर खर्च 2021 में 6 फीसदी बढ़ने का अनुमान : गार्टनर
Tuesday, 24 November 2020 10:07

नई दिल्ली: देश में सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) का खर्च 2021 में सालाना छह प्रतिशत बढ़कर 81.9 अरब डॉलर तक पहुंच सकता है। शोध कंपनी गार्टनर की हालिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। सोमवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक, 2020 में देश का आईटी पर व्यय 79.3 अरब डॉलर रहने का अनुमान व्यक्त किया गया है। यह 2019 के स्तर से 8.4 प्रतिशत नीचे है।

गार्टनर रिसर्च मामलों के उपाध्यक्ष अरूप रॉय ने एक बयान में कहा, "कोविड-19 महामारी की यह हालत कई संगठनों को नींद से जगाने वाली है, ताकि वह अपने आईटी ढांचे और रणनीति को सुदृढ़ करें और 2021 में आईटी पर अपना व्यय बढ़ाएं।"

वर्ष 2020 में उपकरण और डेटा सेंटर श्रेणी में सबसे अधिक गिरावट रही। इनके क्रमश: 26 प्रतिशत और 1.2 प्रतिशत गिरने का अनुमान है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि 2021 में कंपनियों और कारोबारों के प्रमुख कार्यकारियों द्वारा आईटी पर अधिक खर्च करने का अनुमान है।

गार्टनर ने कहा कि जहां सभी खंडों में खर्च में वृद्धि दर्ज की जाएगी, वहीं उद्यम सॉफ्टवेयर खंड में 13.6 प्रतिशत और डेटा सेंटर सिस्टम में 8.3 प्रतिशत की उच्चतम वृद्धि हासिल होगी।

यह भी अनुमान लगाया गया है कि सभी क्षेत्रों के लिए 2021 में 'डिजिटल इंडिया' मिशन एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगा। इससे भी आईटी पर व्यय बढ़ने का अनुमान है।

रॉय ने कहा कि जो कंपनियां महामारी से पहले डिजिटल तौर पर तैयार थी, वे इसके असर को सीमित करने में सफल रहीं।

उन्होंने कहा, "इन डिजिटल नवाचारों की सफलता ने आईटी में निवेश पर ध्यान केंद्रित किया है।"

--आईएएनएस

एकेके/एसजीके