Print this page

डेटा प्रोटेक्शन : संसद की समिति ने फेसबुक, ट्विटर को भेजा समन
Friday, 23 October 2020 15:39

नई दिल्ली: संसद की एक संयुक्त समिति ने शुक्रवार को डेटा प्रोटेक्शन और गोपनीयता के मुद्दों पर अपने 'मौखिक साक्ष्य (ओरल एविडेंस) की तलाश के लिए फेसबुक को समन जारी किया। कहा जाता है कि ट्विटर को भी अगले हफ्ते हाजिर होने के लिए निर्देश जारी किया गया है। भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी की अगुवाई वाली संयुक्त समिति में लोकसभा के 20 और राज्यसभा के 10 सदस्य हैं।

शुक्रवार की बैठक के एजेंडे में कहा गया, "पर्सनल डेटा प्रोटेक्शन बिल, 2019 पर फेसबुक इंडिया ऑनलाइन सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड के प्रतिनिधियों द्वारा मौखिक साक्ष्य।"

हालांकि, फेसबुक और ट्विटर को समन नागरिकों के व्यक्तिगत डेटा प्रोटेक्शन के मुद्दे से सख्ती से संबंधित है।

भारत के नक्शे के साथ छेड़छाड़ का कड़ा विरोध करते हुए, सरकार ने ट्विटर के सीईओ को एक कड़ा पत्र लिखा, जिसमें कहा गया कि प्लेटफॉर्म द्वारा भारत की संप्रभुता और अखंडता का अनादर करने का कोई भी प्रयास, जो कि नक्शे से भी परिलक्षित होता है, पूरी तरह से अस्वीकार्य है।

पिछले महीने, फेसबुक इंडिया के कार्यकारी अधिकार अंकित दास और भाजपा की कथित मिलीभगत को लेकर फेसबुक और केंद्र सरकार की कड़ी आलोचना के बीच, केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग को एक सख्त पत्र लिखा, जिसमें कथित पूर्वाग्रह को लेकर फेसबुक इंडिया प्रबंधन को दोषी ठहराया गया था।

--आईएएनएस

वीएवी-एसकेपी