Print this page

5जी एमईसी टेक के लिए एलजी यूप्लस ने गूगल क्लाउड से मिलाया हाथ
Sunday, 20 September 2020 17:19

सियोल: दक्षिण कोरिया के प्रमुख मोबाइल कैरियर एलजी यूप्लस ने 5जी मोबाइल एज कम्पयूटिंग (एमईसी) टेक के लिए गूगल क्लाउड से हाथ मिलाया है। इस साझेदारी के तहत एलजी यूप्लस गूगल क्लाउड के साथ काम करेगा, जो कि अपना आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस और मशीन लर्निग टेक मुहैया कराएगा।

योनहाप न्यूज एजेंसी के मुताबिक इससे ऐसी नई सर्विसेज तैयार की जा सकेंगे, जो टेलीकॉम ऑपरेटर के 5जी नेटवर्क के लिए एमईसी इस्तेमाल कर सकेंगे।

एलजी यूप्लस लगातार नई तकनीक विकसित करने पर काम कर रहा है। हाल ही में उसने अपने ग्लोबल पार्टनर्स के साथ एडवांस्ड सेलुलर मॉड्यूल तकनीक विकसित की है, जिसमें सब्सक्राइबर आईंडिफिकेशन मॉड्यूल (सिम) कार्ड की जरूरत नहीं है।

सेलुलर चिपसेट बनाने वाली कम्पनी सोनी सेमीकंडक्टर इजरायल, लोकल कम्यूनिकेशन मॉड्यूल मेकर एनटीमोर और जर्मन डिजिटल सिक्यूरिटी सॉल्यूशंस प्रोवाइडर गीसेक डेवरिएंट की मदद से एलजी यूप्लस ने एक वेरीफाइड इंटीग्रेटेड यूनिवर्सल इंटीग्रेटेड सर्किट कार्ड (आईयूआईसीसी) सॉल्यूशंस विकसित किया है।

सिम कार्ड यूजर के पर्सनल जानकारियों की स्टोर करता है और मोबाइल कैरियर को उसके प्लांस और सर्विस को पहचानने में मदद करता है।

आईयूआईसीसी तकनीक में सिम का काम एक कम्यूनिकेशन चिप करेगा, जो व्वाइस और डाटा कनेक्शन को भी अंजाम देगा।

इस तकनीक के बाद मोबाइल फोन बनाने वाली कम्पनियों को छोटे आकार के प्रॉडक्ट्स बनाने की आजादी होगी क्योंकि उन्हें इसमं सिम कार्ड के लिए जगह देने की जरूरत नहीं होगी। साथ ही इससे मोबाइल कम्पनियों को खर्च में कटौती करने में भी मदद मिलेगी।

--आईएएनएस

जेएनएस