उप्र में हर 5 किलोमीटर पर खुलेगा हाईस्कूल

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव जावेद उस्मानी ने कहा कि उच्च प्राथमिक स्तर की शिक्षा पूर्ण करने वाले विद्यार्थियों की पहुंच माध्यमिक स्तर के विद्यालयों तक कराने के लिए राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के अन्तर्गत प्रत्येक 5 किलोमीटर पर एक हाईस्कूल की स्थापना कराने के निर्देश दिए गए हैं।

उन्होंने कहा कि शैक्षिक दृष्टि से पिछड़े विकासखण्डों में मॉडल स्कूल की स्थापना कराने के साथ-साथ राजकीय विद्यालयों में आधारभूत सुविधाओं का सु²ढ़ीकरण, अतिरिक्त कक्षा-कक्ष, पुस्तकालय तथा प्रयोगशाला आदि का निर्माण कराया जा रहा है।

मुख्य सचिव ने कहा कि माध्यमिक स्तर की शिक्षा को अधिक गुणवत्तापूर्ण बनाने के लिए पहली बार माध्यमिक स्तर पर सेवारत शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित कराने के निर्देश दिए गए हैं।

उन्होंने कहा कि बालिकाओं की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए संचालित कन्या विद्याधन योजना के अन्तर्गत आर्थिक रूप से कमजोर कक्षा 12 उत्तीर्ण बालिकाओं को 30 हजार रुपये का अनुदान दिलाया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने देश मंे पहली बार छात्रों को नवीन सूचना और संचार तकनीकी से परिचित कराने के लिए कक्षा 12 उत्तीर्ण कर उच्च शिक्षा ग्रहण करने वाले छात्र-छात्राआंे को नि:शुल्क लैपटॉप तथा कक्षा 10 उत्तीर्ण कर कक्षा 11 मंे अध्ययनरत छात्र-छात्राआंे को नि:शुल्क टैबलेट वितरण की योजनान्तर्गत 50 लाख छात्र-छात्राओं को लाभान्वित कराने का निर्णय लिया है।

उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारी प्राथमिक, उच्च प्राथमिक, माध्यमिक स्तर पर संचालित विभिन्न योजनाओं के सफल क्रियान्वयन एवं अनुश्रवण का कार्य सुनिश्चित करें। ताकि समस्त विद्यार्थियों को संचालित योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ मिल सके तथा सबके लिए शिक्षा के साथ-साथ गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की संकल्पना को साकार किया जा सके।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।