आग से लड़ना दुष्कर कार्य : अखिलेश

अग्निशमन सेवा दिवस के अवसर पर रविवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि आग से लड़ना अत्यंत कठिन कार्य है, जिसे फायर सर्विस से जुड़े लोग बड़े साहस के साथ कर रहे हैं। फायर सर्विसेस के उच्चाधिकारियों ने मुख्यमंत्री को फायर सर्विसेस का स्टिकर लगाया। मुख्यमंत्री ने फायर सर्विसेस द्वारा दी जा रही सेवाओं की प्रशंसा करते हुए कहा कि आग से लड़ना जोखिम भरा काम है, लेकिन फायर सर्विस से जुड़े लोग अपनी जान पर खेलकर लोगों को बचाते हैं। अग्निशमन सेवा से जुड़े अधिकारी और कर्मचारी संकट के समय में जान-माल और सार्वजनिक संपत्ति को बचाते हैं। इनका कार्य सराहनीय है।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने फायर सर्विसेस के पक्ष में गुप्तदान भी किया। फायर सर्विसेस के अधिकारियों ने पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव तथा प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री शिवपाल सिंह यादव को भी स्टिकर लगाया। उन्होंने भी गुप्तदान किया।

गौरतलब है कि वर्ष 1944 में 14 अप्रैल को मुंबई बंदरगाह में फोर्ट स्टीकेन नामक मालवाहक पोत में अचानक आग लग गई थी। पोत पर रूई के बंडल, विस्फोटक एवं युद्ध उपकरण भरे हुए थे। आग को बुझाते समय जहाज में विस्फोट के कारण मुंबई अग्निशमन सेवा के 66 अग्निशमनकर्मी वीरगति को प्राप्त हुए थे।

वीरगति प्राप्त इन अग्निशमन कर्मियों की पावन स्मृति में प्रत्येक वर्ष 14 अप्रैल को समस्त भारत में अग्निशमन सेवा दिवस का आयोजन किया जाता है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।