यूपी इंवेस्टर समिट में 90,000 करोड़ के निवेश पर सवाल

लखनऊ: यूपी में हुए इंवेस्टर समिट में कोरिया की एक कंपनी के 90,000 करोड़ के निवेश के एलान पर सवाल उठे हैं. इस कंपनी का नाम Worldbestech है.  जांच में पता चला है कि ये कंपनी खुद सिर्फ 13 करोड़ की है. इस बारे में जब हमने राज्य सरकार से सफाई मांगने की कोशिश की तो ज़्यादा जानकारी नहीं दी गई.  कार्यक्रम के दौरान यूपी के उद्योग मंत्री ने ऐसे किसी MOU से इनकार किया है.

आपको बता दें कि यूपी इंवेस्टर समिट में के पहले दिन 1045 एमओयू साइन हुए थे. इसमें देश के टॉप-5 बड़े औद्योगिक घरानों ने मंच से यूपी में 1 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का निवेश करने का ऐलान किया था. इसके अलावा अलग-अलग सेशंस में देश और विदेश की कई कंपनियों ने राज्य सरकार के साथ प्रदेश में निवेश के लिए एमओयू साइन किए थे. 

 
 

इस समिट के दौरान अडानी ग्रुप ने 35000 करोड़, रिलायंस ग्रुप ने जियो के जरिए 10 हजार करोड़, एस्सेल ग्रुप ने 18,750 करोड़ और बिड़ला ग्रुप ने  25000 करोड़ का यूपी में निवेश करने का फैसला किया था. 

इस समिट के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था कि जब परिवर्तन होता है, तो सामने दिखता है. उत्तर प्रदेश में इतने व्यापक स्तर पर इन्वेस्टर समिट होना, इन्वेस्टर समिट में इतने निवेशकों और उद्यमियों का एकजुट होना, अपने आप में एक बड़ा परिवर्तन है. उन्‍होंने कहा कि मैं यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनके मंत्रिमंडल के उनके सहयोगियों, ब्यूरोक्रेसी, पुलिस, और उत्तर प्रदेश की जनता को बधाई देता हूं कि वो अपने उत्तर प्रदेश को इतने कम समय में समृद्धि और विकास के रास्ते पर ले आई है. उन्‍होंने कहा कि अब यूपी विकास के रास्‍ते पर है.

POPULAR ON IBN7.IN