यूपी: मुख्‍यमंत्री सामूहिक विवाह योजना दिए गए नकली जेवर!

उत्तर प्रदेश के औरैया जिले में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत 55 कन्याओं का विवाह कराया गया। 25 नवविवाहिताओं ने जिला मुख्यालय पहुंचकर नकली जेवर दिए जाने का आरोप लगाया। मामला प्रकाश में तब आया जब 25 नवविवाहिताएं जिला मुख्यालय पहुंच गईं और जिलाधिकारी कार्यालय के सामने प्रदर्शन किया। डीएम श्रीकांत ने मामले में की जांच कराने का आश्वासन दिया। नवविवाहिताएं उनके आश्वासन से संतुष्ट नही हैं। नवविवाहिताओं में से सत्यवती ने बताया कि उन्हें जेवर नकली होने का शक हुआ तो वे अन्य नवविवाहितों के साथ एक सुनार के पास पहुंचीं। सुनार ने जेवर चांदी की बजाय लोहे का बताया। इसके बाद सभी नवविवाहिताएं भड़क उठीं और कलेक्ट्रेट जा पहुंचीं।

उन्होंने प्रशासन से मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत हुई उनकी शादी में खेल किए जाने का आरोप लगाया। और कहा कि इस योजना के तहत उन्हे नकली जेवर दिये गये हैं। उन्होंने कहा कि मिलने वाली राशि 35 हजार रुपये की थी, लेकिन व्यवस्था के नाम पर 15-15 हजार रुपये भी काट लिए गए। समाज कल्याण अधिकारी विनीत तिवारी ने पूरे मामले में की जांच कराने की बात कही है।

रेड ब्रिगेड की 15 सदस्यीय बेटियों के दल ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक से राजभवन में संस्था के सचिव डॉ. सत्यव्रत सिंह के नेतृत्व में मुलाकात की। यह दल पूर्व राज्यपाल सरोजिनी नायडू के जन्मदिन 13 फरवरी को हैदराबाद स्थित उनके जन्मस्थान से चला था, अब लखनऊ पहुंचा है। रेड ब्रिगेड की बेटियां राष्ट्रीय महिला दिवस को लोकप्रिय बनाने के लिए प्रेरणा यात्रा पर हैं। 

इस दल ने चार प्रदेशों के 50 से अधिक जिलों एवं 2,500 किलोमीटर का भ्रमण करते हुए लगभग 30,000 से अधिक युवक-युवतियों से संवाद भी किया है। रेड ब्रिगेड लखनऊ पांच वर्षों से अधिक समय से महिला सम्मान और सुरक्षा के लिए कार्य कर रहा है।

POPULAR ON IBN7.IN