कावेरी जल विवाद पर राज्य के सभी दल एकजुट हों : पलनीस्वामी

तमिलमाडु के मुख्यमंत्री के. पलनीस्वामी ने सभी पार्टियों से अपने मतभेदों को दरकिनार कर पड़ोसी राज्य कर्नाटक के साथ कावेरी जल विवाद पर 'राज्य के अधिकार को सुरक्षित करने के लिए' एकजुट होने का आग्रह किया है। सर्वोच्च न्यायालय ने 16 फरवरी को तमिलनाडु के हिस्से में आने वाले नदी के जल को 192 टीएमसीएफटी से कम कर 177.25 टीएमसीएफटी कर दिया था। तमिलनाडु को यह हिस्सा 2007 में एक अधिकरण ने आवंटित किया था। 

सचिवालय में सभी दलों की बैठक में पलनीस्वामी ने कहा कि यह मुद्दा राज्य के सभी लोगों का है। यह बैठक कावेरी जल पर तमिलनाडु के अधिकारों की सुरक्षा के उपायों पर चर्चा के लिए बुलाई गई थी। 

पलनीस्वामी ने लंबे समय से चल रहे विवाद पर अपने जल अधिकारों को सुरक्षित करने के लिए सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी दी। इस मौके पर राजनेताओं के अलावा कई किसान संघ भी उपस्थित थे। 

सभी दलों की बैठक मुद्दे पर कानूनी उपायों पर चर्चा करने के लिए बुलाई गई थी।