खरीदारी के लिए बना कश्मीर का नया टाईम-टेबल
Friday, 13 September 2019 16:12

  • Print
  • Email

श्रीनगर: कश्मीर में दुकानदारों ने अनुच्छेद 370 को हटाने का विरोध करने के लिए एक अनूठा तरीका अपनाया है। सुबह के दौरान कुछ ही घंटों के लिए बाजार खोला जाता हैं और फिर शाम के समय थोड़ी देर के लिए ही दुकानें खुलती है। बाजार जब खुलता है, तब दुकानों में लोगों की सक्रियता बढ़ जाती है और ग्राहकों की भीड़ लग जाती है।

बटमालु क्षेत्र में किराने की दुकान चलाने वाले निसार अहमद ने कहा, "यह धारा 370 को हटाने के विरोध में अपना विरोध दर्ज कराने का एक लोकतांत्रिक तरीका है।"

अशांत कश्मीर में 2008, 2010 और 2016 में कई महीनों तक बुलाए गए बंद और विरोध का नेतृत्व अलगाववादी नेता करते थे। लेकिन इस बार किसी तरह के बंद का आह्वान नहीं किया गया है।

बाई पास क्षेत्र में दुकान चलाने वाले बशीर अहमद ने कहा, "यह धारा 370 को हटाने के खिलाफ एक सहज प्रतिक्रिया है।"

हालांकि जितनी देर तक दुकानें बंद रहती हैं, उतनी देर तक ये विक्रेताएं कुछ अन्य जगहों पर अपना कारोबार चलाते हैं। श्रीनगर में बटमालू बस स्टैंड और दालगेट जैसी जगहों पर विक्रेता फल और सब्जियां बेचते हैं।

इस पर सरकार का कहना है कि ऐसा करने पर उनपर कोई प्रतिबंध नहीं लगाया जाएगा, लेकिन उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई जरूर की जाएगी, जो दूसरों की दुकान जबरदस्ती बंद कराते हैं।

सरकार के प्रवक्ता रोहित कंसल ने कहा, "व्यावहारिक रूप से कोई प्रतिबंध नहीं है। इसका अर्थ है कि दुकानदार किसी भी तरह से दुकान खोल सकते हैं, इसमें कोई बाधा नहीं है। लोग अपनी दुकानें खोलने के लिए स्वतंत्र हैं, लेकिन हम इस बात का भी ख्याल रख रहे हैं कि उग्रवादियों या देशद्रोहियों द्वारा जबरदस्ती दुकानदारों को अपनी दुकानें बंद करने पर मजबूर न किया जाए। अगर कोई शरारती तत्व ऐसा करता है, तो उन पर कार्रवाई की जाएगी।"

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss