पंजाब पुलिस ने हवालात के भीतर महिला को हेरोईन लेने दी

पंजाब के फगवाड़ा जिले की पुलिस ने तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित किया है। ये कार्रवाई उस वीडियो के वायरल होने के बाद की गई जिसमें एक नवयुवती पुलिस हवालात में हेरोईन का नशा करते हुए दिख रही थी। ये घटना करीब तीन महीने पुरानी है। ये वाकया उस वक्त हुआ था जब महिला को 3 ग्राम हेरोइन के साथ गिरफ्तार किया गया था। लेकिन उस घटना का वीडियो अब ज्यादा सुर्खियां बटोर रहा है।

कपूरथला के एसएसपी संदीप शर्मा ने कहा कि एएसआई बलबीर सिंह, हेड कांस्टेबल हरदीप सिंह और महिला कांस्टेबल कुलदीप कौर को निलं​बित किया गया है और उनके विरुद्ध विभागीय कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा,”ये जांच का विषय है कि महिला के पास हेरोईन किस प्रकार पहुंची। इसकी दो ही संभावनाएं हैं। पहली या तो महिला की ठीक प्रकार से जांच नहीं की गई ​थी या फिर उसे उसके पास से जब्त की गई नशीली सामग्री को इस्तेमाल करने की इजाजत दी गई।”

पुलिस ने इस मामले में बीते 30 मार्च को एफआईआर दर्ज की थी। एफआईआर के मुताबिक गिरफ्तार की गई महिला का नाम संदीप कौर है। वह पास के ही गांव भुल्लाराय की रहने वाली है। उसे पुलिस टीम ने तिब्बी इलाके से गिरफ्तार किया था। पुलिस वालों को उस पर उस वक्त संदेह हुआ जब उसने पुलिस टीम को देखते ही अप्रत्याशित प्रतिक्रिया दी। पुलिस वालों ने जब महिला के हाथ में मौजूद छोटे पाउच के बारे में पूछताछ की तो वह कुछ भी बता नहीं सकी। एफआईआर के मुताबिक जब पाउच को खोला गया तो उसके भीतर से हेरोइन बरामद की गई।

वीडियो में ड्रग्स लेने वाली नवयुवती हाथों में शादी का लाल चूड़ा पहनकर ड्रग्स लेते हुए ​दिख रही है। जबकि पुलिसकर्मियों को पास ही खड़े होकर बातचीत करते हुए देखा जा सकता है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक महिला नशे की आदी होने के साथ ही पैडलर (नशीले पदार्थों को एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाने वाले) भी है।

हालांकि पुलिस अधिकारी कुछ भी आॅन रिकॉर्ड कहने से बच रहे हैं कि आखिर क्यों उसे पुलिस हिरासत में ड्रग्स लेने की इजाजत दी गई। ​विभाग के सूत्रों ने दावा किया कि जब महिला के ऊपर रात के वक्त बेसुध होने के लक्षण दिखने लगे, इसके बाद पुलिसकर्मियों ने उसे ड्रग्स को सूंघने की इजाजत दे दी। ताकि अगली सुबह कोर्ट में पेश करते वक्त वह ठीक हालत में रहे और कोई बड़ा स्वास्थ्य संबंधी मुददा खड़ा न हो।

इसी बीच, फगवाड़ा के एसपी परमिंदर सिंह भंडल ने कहा कि महिला को जेल से जमानत पर रिहा किया गया है। उसके दिए हुए भुल्लाराय गांव के पते पर कोई नहीं रहता है। एसपी ने कहा कि पुलिस को कोई सूचना नहीं है कि उसकी शादी कब और किसके साथ हुई है। लेकिन संभावना है कि शायद महिला का पति भी ड्रग्स के नशे का शिकार हो। साथ में पुलिस उस शख्स की तलाश भी कर रही है जिसने ये पूरा वीडियो बनाया था।