दिल्‍ली के उपराज्‍यपाल ने कहा - धमकी भरे अंदाज़ में सीएम केजरीवाल ने अधिकरियों की 'हड़ताल' खत्म कराने की मांग की

उपराज्‍यपाल द्वारा कार्रवाई करने से इनकार करने के बाद अपनी मांगों को लेकर दिल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उपमुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया, सत्‍येंद्र जैन और गोपाल राय के साथ एलजी हाउस के वेटिंग रूम में एक तरह से धरने पर बैठ गए. 'आप' ने ट्वीट कर बताया कि एलजी जब तक कार्रवाई नहीं करते तब तक वो वहीं बैठे रहेंगे.

उधर दिल्‍ली के उपराज्‍यपाल अनिल बैजल ने विज्ञप्‍ती जारी कर कहा है कि धमकी भरे अंदाज़ में सीएम केजरीवाल ने अधिकरियों की 'हड़ताल' खत्म कराने की मांग की. उन्‍होंने कहा कि अधिकरियो में अविश्वास और डर का माहौल है जिसे सीएम ही दूर कर सकते हैं. डोर स्टेप राशन डिलीवरी की फ़ाइल 3 महीने से मंत्री इमरान हुसैन के पास है और उसके लिए केंद्र की मंजूरी जरूरी है. एलजी ने कहा कि विरोध के बावजूद अधिकारी अपना काम कुशल तरीके से निभा रहे हैं लेकिन सरकार की तरफ से अधिकारियों से सकारात्मक बातचीत की कोशिश तक नहीं हुई.

दिल्ली सरकार की दो मुख्य मांगे हैं. पहला, चार महीने से आईएएस ऑफिसरों ने दिल्ली सरकार के काम काज का बायकॉट कर रखा है, उन्हें काम पर बुलाएं, जो लोग नहीं आना चाहते हैं उनके खिलाफ़ कड़ी कार्रवाई की जाए. और दूसरी मांग है कि डोर टू डोर राशन पहुंचाने के दिल्ली सरकार के फैसले को लागू किया जाए. एलजी ने इसे ख़ारिज कर दिया था.

उपमुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी ट्वीट कर अपनी मांग दोहराई है...

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पूर्ण राज्य की मांग को लेकर एलजी दिल्ली छोड़ो कैंपेन शुरू कर दिया. दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम से कैंपेन की शुरुआत करते हुए केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार और पीएमओ लगातार हमारे काम को ठप करने की कोशिश कर रही है. एजेंसी को पीछे छोड़कर हमें काम करने से रोका जा रहा है.

'आप’ के वार्ड स्तरीय पदाधिकारियों एवं विधायकों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने की लड़ाई स्वतंत्रता संघर्ष की तरह है. केजरीवाल ने कहा कि महात्मा गांधी ने ब्रिटिश शासन के दौरान भारत छोड़ो आंदोलन शुरू किया था और अब आम आदमी पार्टी ‘एलजी दिल्ली छोड़ो’ अभियान शुरू करेगी. उन्होंने कहा कि 1947 में भारत को आजादी मिली और सभी ब्रिटिश वायसराय हटा दिए गए, लेकिन दिल्ली में एलजी (उप - राज्यपाल) को वायसराय की जगह नियुक्त कर दिया गया.

केजरीवाल ने कहा कि कई लोग कह रहे हैं कि पिछले 1 साल में मैंने कुछ नहीं बोला, इसका नाजायज़ फ़ायदा उठाया गया, लेकिन अब बोलना होगा. आए दिन हम पर नए-नए केस दर्ज होते हैं. प्रधानमंत्री और अमित शाह ये तो बताएं कि पहले के केसों का क्या हुआ. एलजी को हमारे ख़िलाफ़ हथियार बनाया गया.

उन्‍होंने कहा कि मोहल्‍ला क्‍लीनिक को रोकने की कोशिश की जा रही है. स्‍कूल और कॉलेज के निर्माण को रोकने की कोशिश की जा रही है. राशन की डिलीवरी को रोकने की कोशिश की जार रही है. जब से हमारी सरकार बनी है तभी से केन्‍द्र सरकार और पीएमओ अलग-अलग तरीके से दिल्‍ली पुलिस, आईएएस ऑफिसर, ईडी, इनकम टैक्‍स सारी एजेंसियां को पीछे छोड़ा हुआ है कि इनको कम करने से रोको.

POPULAR ON IBN7.IN