दिल्ली एसीबी ने पीडब्ल्यूडी परियोजना के निरीक्षण का आदेश दिया

दिल्ली की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा (एसीबी) ने गुरुवार को कहा कि उसने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के एक रिश्तेदार के कथित तौर पर 10 करोड़ रुपये के घोटाले में शामिल होने की जांच के तहत लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) की परियोजना के निरीक्षण का आदेश दिया है। एसीबी प्रमुख मुकेश कुमार मीणा ने आईएएनएस से कहा, "हमने पीडब्ल्यूडी को विशेषज्ञों के एक दल के साथ साइट के निरीक्षण का निर्देश दिया है और परियोजना में केजरीवाल के दिवंगत साढ़ू सुरेंद्र कुमार बंसल के कथित तौर पर 10 करोड़ के घोटाले में शामिल होने के संबंध में राय मांगी है।"

अधिकारी ने कहा कि एसीबी कई जगहों से साक्ष्यों को जुटाने के लिए साइट का निरीक्षण कर रही है।

एसीबी की यह कार्रवाई 9 मई को बंसल और वरिष्ठ पीडब्ल्यूडी अधिकारियों के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप से जुड़े होने की तीन शिकायतों के दर्ज किए जाने के बाद हो रही है। जांच एजेंसी ने 13 मई को पीडब्ल्यूडी के 6 इंजीनियरों से पूछताछ की।

बंसल और पीडब्ल्यूडी अधिकारियों के खिलाफ तीन एफआईआर दर्ज किए जाने के बाद यह पाया गया कि अलग-अलग कार्यो के लिए कई कंपनियों द्वारा बिल को मंजूरी दी गई।

इस मामले में बंसल भी शामिल है जिनका 7 मई को निधन हो गया। बंसल एक जल निकासी परियोजना व राष्ट्रीय राजमार्ग-44 पर शनि मंदिर से बकोली गांव से ड्रेन नं. 6 के फुटपाथ सुधार परियोजना में शामिल थे।

प्राथमिकी में आम आदमी पार्टी (आप) प्रमुख केजरीवाल का नाम नहीं शामिल है। हालांकि, एनजीओ रोड एंटी करप्शन के संयोजक शिकायतकर्ता राहुल शर्मा ने मुख्यमंत्री पर बंसल के करीब 10 करोड़ रुपये के जाली बिलों को मंजूरी देकर सहयोग करने का आरोप लगाया।

एसीबी ने शर्मा का बयान 11 मई को दर्ज किया था।

  • Agency: IANS