मप्र में सरपंच से टकराव रखने वाले सचिव हटेंगे

भोपाल, 12 मार्च (आईएएनएस)| मध्य प्रदेश के सरपंचों के लिए यह अच्छी खबर है, क्योंकि अब उनकी पंचायत में वही सचिव रह सकेंगे, जिनसे उनका टकाराव नहीं होगा। बात साफ है कि सरपंच के साथ सचिव को दोस्ताना रिश्ते रखने होंगे। प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव ने मंगलवार को साफ तौर पर कहा कि जिन पंचायतों मे सरपंच व सचिव के बीच समन्वय नहीं है और उस कारण विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं, वहां के सचिवों को हटा दिया जाएगा।

भार्गव ने यह बात विधानसभा में तब कही, जब कांग्रेस विधायक बृजेंद्र सिंह राठौर ने ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के जरिए सदन में टीकमगढ़ जिले की कतारपुरा पंचायत के सरपंच व सचिव के बीच चल रहे टकराव का मुद्दा उठाया।

मंत्री ने कहा कि यह व्यवस्था पूरे प्रदेश की पंचायतों में लागू होगी।

विधायक राठौर ने अपने ध्यानाकर्षण प्रस्ताव में कहा कि कतारपुरा पंचायत में विकास कार्य पूरी तरह ठप्प है, क्योंकि महिला सरपंच को सचिव का सहयोग नहीं मिल रहा है। उन्होंने सचिव को हटाने की मांग की है।

मंत्री भार्गव ने विधानसभा सत्र के बाद सचिव को हटाने का भरोसा भी दिलाया।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।