नई दिल्ली: जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) के मुखिया मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी के रूप में मान्यता देने के भारत के प्रयास में चीन द्वारा रोड़ा अटकाए जाने पर देश में चीनी वस्तुओं पर प्रतिबंध लगाने की आवाज फिर से सुनाई देने लगी है। इस पहल में योगगुरु बाबा रामदेव और मेघालय के राज्यपाल तथागत रॉय ने ट्विटर पर मोर्चा संभाल लिया है।

पतंजलि आयुर्वेद के संस्थापक रामदेव ने गुरुवार को एक ट्वीट में कहा, "मसूद अजहर समर्थक चीन सहित जो भी देश और देश के अंदर लोग हैं, उनका हमें राजनैतिक, सामाजिक, आर्थिक तौर पर बहिष्कार करना चाहिए। चीन तो विशुद्ध रूप से व्यावसायिक भाषा ही समझता है, आर्थिक बहिष्कार युद्ध से भी ज्यादा ताकतवर है।"

जेईएम प्रमुख के खिलाफ प्रतिबंधों पर चीन द्वारा वीटो का प्रयोग किए जाने के तुरंत बाद मेघालय के राज्यपाल तथागत रॉय ने भी चीनी उत्पादों के बहिष्कार के लिए बिना देर किए सुर में सुर मिलाया।

उन्होंने ट्वीट कर कहा, "मसूद अजहर को प्रतिबंधित करने के संयुक्त राष्ट्र के कदम को साम्यवादी चीन ने चौथी बार रोका है। और सोचने वाली बात ये है कि जवाहरलाल नेहरू संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में इस चीन के लिए स्थायी सीट की मांग को लेकर जगह-जगह घूमे थे।"

चीन समर्थित कंपनियां भारत के स्मार्टफोन बाजार में कब्जा जमाए हुए हैं और उसने कई श्रेणियों में अपने उत्पाद उतार रखे हैं।

एक अन्य यूजर ने लिखा, "मैंने टिकटोक अनइनस्टॉल कर दिया है और मेरा प्रत्येक राष्ट्रवादी भारतीय से चीनी उत्पादों का बहिष्कार करने का आग्रह है, ताकि इन चीनी गद्दारों को एक अच्छा सबक सिखाया जा सके।"

--आईएएनएस

Published in टेक

सैन फ्रांसिस्को: माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट ट्विटर यूजर्स को अनावश्यक बातचीत की निगरानी पर ज्यादा नियंत्रण देने के उद्देश्य से 'हाइड रिप्लाई' नामक एक फीचर विकसित कर रही है। वरिष्ठ उत्पाद प्रबंधक मिशेल यास्मीन हक ने गुरुवार को ट्वीट किया, "ट्विटर पर मनोरंजक बातचीत शुरू करने वाले लोग हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं, और हम उन्हें उनके द्वारा शुरू की गई बातचीत को स्वस्थ बातचीत बनाए रखने के लिए सशक्त करना चाहते हैं।"

हक ने कहा, "इस फीचर से, कोई बातचीत शुरू करने वाले व्यक्ति के पास अपने ट्वीट पर आए रिप्लाई को हाइड करने की सुविधा होगी। ये हाइड किए गए रिप्लाई मीनू ऑप्शन से देखे जा सकेंगे।"

उन्होंने कहा, "आगामी कुछ महीनों में, हम इसका सार्वजनिक परीक्षण करने की योजना बन रहे हैं।"

ट्विटर सालों से ब्लॉक, म्यूट और रिपोर्ट जैसे कई टूल्स लाकर प्लेटफॉर्म को संतुलित करने का प्रयास कर रही है।

कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जैक डोर्सी ने पहले कहा था कि ट्विटर बहुप्रतीक्षित 'एडिट' फीचर को भी लांच करने की योजना कर रही है, जो यूजर को ट्वीट करने के पांच से 30 सेकेंड के अंदर उसे एडिट करने की भी सुविधा देंगे।

--आईएएनएस

Published in टेक

नई दिल्ली: भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़े तनाव के मद्देनजर बुधवार को ट्विटर पर कुछ हैशटैग में क्षेत्र में शांति कायम करने बातचीत देखी गई। इसके साथ ही कुछ ट्वीट में पाकिस्तान की हिरासत में कैद भारतीय वायुसेना के पायलट को वापस लाने का आह्वान भी किया गया। ट्रेंड करने वाले शीर्ष पांच हैशटैग में से एक 'से नो टू वॉर' भी है।

प्रसिद्ध सोशल मीडिया मंच पर 'से नो टू वॉर' के ट्रेंडिंग शुरू करने के कारण दोनों देशों के लोगों द्वारा शांति का संदेश साझा किया जाना और हैशटैग के साथ अपनी चिंता व्यक्त करना रहा।

हाथों में भारतीय और पाकिस्तानी झंडा लिए एक दूसरे से गले मिलते हुए दो बच्चों की तस्वीर के शीर्षक में लिखा है, 'युद्ध में कोई गौरव नहीं'।

एक अन्य ट्वीट में कहा गया, "जवान मरते हैं और उनके प्रियजन परेशान होते हैं, न कि राजनेता या हैशटैग करने वाले, जो अपने घरों में आराम से बैठकर युद्ध के बारे में ट्वीट/पोस्ट करते हैं। 'से नो टू वॉर'।"

पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) के सबसे बड़े आतंकी प्रशिक्षण शिविर पर मंगलवार को भारतीय वायुसेना द्वारा किए गए हमले के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया है।

तनाव बुधवार को भी जारी रहा, क्योंकि भारतीय वायुसेना ने जम्मू एवं कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में घुसपैठ कर रहे पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों को पकड़ लिया था और पाकिस्तानी जमीन पर एक पाकिस्तानी एफ16 को मार गिराया था।

पुलिस ने कहा कि श्रीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से सात किलोमीटर दूर जम्मू-कश्मीर के बडगाम में एक भारतीय सैन्य विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया।

पाकिस्तान ने बुधवार को दावा किया कि उसने दो भारतीय पायलटों को पकड़ा है, जिनमें से एक की पहचान विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान के रूप में हुई है, जबकि दूसरे की पहचान नहीं हुई है।

जैसे ही यह खबर सामने आई, ब्रिंग बैक अभिनंदन ने ट्विटर पर ट्रेंड करना शुरू कर दिया। दोनों देशों के लोगों ने विंग कमांडर से गरिमा के साथ व्यवहार करने और जिस देश से वह ताल्लुक रखते हैं, वहां भेजने को कहा।

एक यूजर ने लिखा, "एक पाकिस्तानी नागरिक के रूप में मैं सरकार से 'बंदी' भारतीय पायलट के साथ अच्छा व्यवहार करने और शांति के पैगाम के रूप में उन्हें जल्द से जल्द वापस भेजने का अनुरोध करता हूं। पाकिस्तान ऐसा कर सकता है। 'से नो टू वॉर'।" इस संदेश को दो हजार से ज्यादा बार रीट्वीट किया गया।

'से नो टू वॉर' हैशटैग के साथ एक अन्य यूजर ने लिखा, "मैं एक पाकिस्तानी हूं, हम जानते हैं कि युद्ध क्या है। मैं अभिनंदन को हीरो मानता हूं, क्योंकि यह उनकी गलती नहीं है। वह बहादुरी के साथ अपने देश की सेवा कर रहे हैं। उन्हें जल्द घर भेजा जाए इंशाअल्लाह।"

--आईएएनएस

Published in देश

नई दिल्ली: ट्विटर ने शुक्रवार को पुष्टि करते हुए कहा कि उसके पब्लिक पॉलिसी के वैश्विक उपाध्यक्ष कॉलिन क्रॉवेल 25 फरवरी को भारत में सूचना प्रौद्योगिकी पर संदसीय समिति के समक्ष पेश होंगे। माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ने आईएएनएस को दिए एक बयान में कहा कि क्रॉवेल के लिए लोकसभा चुनाव 2019 ट्विटर के लिए प्रमुख वरीयता पर है।

ट्विटर के एक प्रवक्ता ने कहा, "सोशल या ऑनलाइन समाचार मीडिया प्लेटफॉर्म पर नागरिकों के अधिकारों को सुरक्षित रखने के ट्विटर के विचारों को सुनने के लिए आमंत्रण देने पर हम संसदीय समिति का धन्यवाद करते हैं।"

सरकार ने ट्विटर पर 'आपत्तिजनक कंटेंट' और 'राजनीतिक पूर्वाग्रह वाले कंटेंट' को अपने प्लेटफॉर्म को हटाने में सुस्त होने का आरोप लगाया था।

ट्विटर यूजर्स की सुरक्षा सुनिश्चित करने और इस प्लेटफॉर्म पर राष्ट्रवादी पोस्टों के साथ भेदभावपूर्ण रवैया अपनाने के आरोपों पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद अनुराग ठाकुर की अध्यक्षता में सदन के पैनल ने इससे पहले ट्विटर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) जैक डोर्सी को समन भेजा था।

डोर्सी की अनुपस्थिति में क्रॉवेल 31 सदस्यीय संसदीय समिति के समक्ष ट्विटर का प्रतिनिधित्व करेंगे।

क्रॉवेल ने कहा, "हम सभी प्रकार की बातों का सामना करने के लिए प्रतिबद्ध हैं क्योंकि अब हम असाधारण रूप से विविध सांस्कृतिक, राजनीतिक और सामाजिक माहौल में चुनावी मौसम में प्रवेश कर रहे हैं।"

--आईएएनएस

Published in टेक

नई दिल्ली: ट्विटर ने गुरुवार को कहा कि 2019 का लोक सभा चुनाव कंपनी की प्रमुख प्राथमिकता है तथा वह चुनावी प्रक्रिया की शुचिता का गहरा सम्मान करती है और वह एक ऐसी सेवा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है, जो मुक्त और खुली लोकतांत्रिक बहस की सुविधा प्रदान करे।

ट्विटर के वैश्विक उपाध्यक्ष (सार्वजनिक नीति) कॉलिन क्रोवेल ने एक बयान में कहा, "2019 लोकसभा कंपनी के लिए अहम है और हमारी समर्पित क्रास फंक्सनल टीम यह सुनिश्चित करने के लिए काम कर रही है कि इस महत्वपूर्ण समय में स्वस्थ सार्वजनिक बहस को बढ़ावा और सुरक्षा मिले।"

भारत सरकार ने ट्विटर पर 'आपत्तिजनक सामग्री' हटाने में 'धीमी गति से काम करने' का आरोप लगाया है।

सूचना प्रौद्योगिकी पर बनी संसदीय समिति ने ट्विटर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जैक डोरसी को 25 फरवरी को पेश होने का सम्मन भेजा है और आरोप लगाया है कि वह अपने प्लेटफार्म पर 'राष्ट्रवादी' पोस्ट से भेदभाव कर रही है।

--आईएएनएस

 

Published in देश

सैन फ्रांसिस्को: माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने बुधवार को कहा कि वह अपने प्लेटफॉर्म पर लगातार लाइक और रीट्वीट की गिनती को कम-ज्यादा करने वाले बग को ठीक करने के लिए काम कर रही है। ट्विटर सपोर्ट ने ट्वीट किया, "दुनियाभर में कुछ लोगों को नोटीफिकेशन, लाइक्स और रीट्वीट्स के साथ कुछ समस्या है। हम इसे ठीक करने के लिए काम कर रहे हैं और आगे की जानकारी जल्द देंगे। आपको होने वाले कष्ट के लिए हमें खेद है।"

कंपनी ने हालांकि बग का कारण नहीं बताया और न ही यह बताया कि यह कब तक ठीक होगा।

बग से भारतीय यूजर्स भी प्रभावित हुए हैं।

श्याओमी इंडिया के प्रबंध निदेशक और वैश्विक उपाध्यक्ष मनु जैन ने मंगलवार को ट्वीट किया, "क्या ट्विटर के साथ सब ठीक है? यह रीट्वीट्स और लाइक्स लगातार डिलीट करता जा रहा है। रीट्वीट्स में भारी उतार-चढ़ाव महसूस किया।"

टेकक्रंच की रिपोर्ट के अनुसार, बग से यूजर्स परेशान हैं कि कहीं एक साथ बहुत सारे खाते निरस्त किए जा रहे हैं या ट्विटर उन्हें डिलीट कर रहा है।

ट्विटर के वैश्विक रूप से लगभग 23.6 करोड़ सक्रिय मासिक उपयोगकर्ता हैं और यह स्पष्ट नहीं है कि कितने यूजर्स इससे प्रभावित हुए हैं।

इससे पहले फरवरी में, ट्विटर पर एक बग से एंड्रोएड यूजर्स भ्रमित हो गए थे कि वे किसी भी अनजान यूजर्स के पोस्ट्स देख रहे हैं जबकि वास्तव में ट्विटर ने यूजर्स के नाम और रीट्वीट्स की मिसलेबलिंग कर दी थी।

--आईएएनएस

Published in टेक

नई दिल्ली: माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ट्विटर ने पूर्वाग्रह के आरोपों के संबंध में बुधवार को कहा कि इस मसले पर वह भारत सरकार के संपर्क है। ट्विटर ने यह बात दक्षिण-पंथी खातों के खिलाफ पूर्वाग्रह अपनाने को लेकर संसद की एक समिति द्वारा उसे समन किए जाने के बाद कही है। ट्विटर इंडिया के प्रवक्ता ने आईएएनएस को बताया, "इस मसले पर वर्तमान में सरकार के साथ बातचीत चल रही है और इस समय कोई टिप्पणी नहीं की जा सकती है।"

हालांकि यह अभी तक स्पष्ट नहीं है कि 11 फरवरी की बैठक में ट्विटर का प्रतिनिधित्व कौन करेगा। 

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद अनुराग ठाकुर की अध्यक्षता में सूचना प्रौद्योगिकी मामलों पर संसद की स्थाई समिति ने राष्ट्रवादी खातों के प्रति कथित पूर्वाग्रह अपनाने को लेकर इलेक्ट्रॉनिक्स व सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के प्रतिनिधियों के साथ-साथ ट्विटर इंडिया को समन भेजा है। 

अनुराग ठाकुर ने मंगलवार को ट्वीट किया कि समिति 11 फरवरी को संसद भवन में होने वाली बैठक में सोशल मीडिया/ऑनलाइन न्यूज प्लेटफॉर्मो पर नागरिक अधिकार की रक्षा के मसले की जांच करेगी। 

यह मसला तब सामने आया, जब अधिवक्ता व कार्यकर्ता ईशकरण सिंह भंडारी ने 28 जनवरी को गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात कर उन्हें कथित भेदभाव व अनुचित कार्य-व्यवहार से अवगत कराया। उन्होंने ट्विटर पर इसे राष्ट्र की सुरक्षा को खतरा बताया। 

--आईएएनएस 

 

Published in टेक

नई दिल्ली: भारत में सकारात्मक पथ पर आगे बढ़ रहे ट्विटर एक ऐसे यूनिक लीडर की तलाश कर रहा है जो देश में कंपनी के संचालन को अगले स्तर पर ले जाए। माइक्रो ब्लॉगिंग वेबसाइट ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। ट्विटर के एक प्रवक्ता ने आईएएनएस से कहा, "ट्विटर इंडिया एक सकारात्मक गति से बढ़ रही है। सही मायनों में भारत ट्विटर के लिए दुनिया के सबसे तेजी से बढ़ने वाले बाजारों में शामिल है।"

उन्होंने कहा, "जहां हम एक ऐसे अद्वितीय नेतृत्वकर्ता की तलाश कर रहे हैं जो टीम को अगले स्तर पर ले जा सके वहीं ट्विटर इंडिया के अंतरिम कंट्री हैड बालाजी कृश इस समय प्रभारी हैं और टीम का नेतृत्व कर रहे हैं।"

आईएएनएस की 29 जनवरी की उस खबर पर प्रतिक्रिया देते हुए कंपनी ने कहा कि ट्विटर की राजस्व नीति और संचालन के वैश्विक प्रमुख बालाजी ने सितंबर 2018 में कंपनी का अंतरिम कंट्री हैड का पद संभाला था और अब भी उस पद पर वही हैं।

आईएएनएस ने खबर छापी थी कि तरनजीत सिंह ने पिछले साल सितंबर में ट्विटर के कंट्री हैड के पद से इस्तीफा देने के बाद पिछले दो महीनों से कंपनी में कोई कंट्री हैड नहीं है।

प्रवक्ता ने बताया, "पिछले साल के अंत में तरनजीत के निकलने के अतिरिक्त कार्यकारी टीम में कोई बदलाव नहीं किया गया। बल्कि, ट्विटर ने रिवेन्यू मैनेजमेंट टीम के अंग के तौर पर आकाश बत्रा और कनिका मित्तल को भेजकर ट्विटर इंडिया को बल ही दिया है।"

--आईएएनएस

Published in टेक

एक दशक पुरानी खामियों का फायदा उठाते हुए हैकर्स ने इस्लामिक स्टेट (आईएस) के प्रचार-प्रसार के लिए निष्क्रिय ट्विटर खातों को हैक कर उनका उपयोग करना शुरू कर दिया है। टेकक्रंच की रिपोर्ट में बुधवार को बताया गया कि हालांकि ट्विटर ने ऐसे कई खातों को निलंबित कर दिया है, लेकिन कुछ अभी भी सक्रिय हैं। 

ऐसे कुछ खातों से ऐसे संदेश ट्वीट किए जा रहे हैं, जो हिंसा का समर्थन करते हैं। 

रिपोर्ट में कहा गया कि सालों से निष्क्रिय पड़े ट्विटर खातों को हैकर्स ने ट्विटर की ईमेल द्वारा पुष्टि करने की पुरानी प्रणाली का इस्तेमाल किया। 

ट्विटर ने नए खातों की पुष्टि किसी ई-मेल पते या फोन नंबर से करने की नई व्यवस्था जून से शुरू की थी, लेकिन कई पुराने खाते अभी भी निष्क्रिय हैं, जिसकी पुष्टि किसी ने नहीं की है। हैकर्स इन्ही खातों को हैक कर रहे हैं। 

इन खातों को पंजीकृत करने के लिए जिन ईमेल पतों का इस्तेमाल किया गया था, वे या तो नहीं है या बहुत पहले ही बंद हो चुके हैं। हैंकर्स केवल उस नाम से नया ईमेल खाता बनाकर ट्विटर के उन खातों का नियंत्रण अपने हाथ में ले लेते हैं। 

ट्विटर ने कहा है कि वह इस समस्या के समाधान की प्रयास कर रही है। 

साल 2015 के अगस्त से अब तक ट्विटर 12 लाख से अधिक खातों को आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए कारण बंद कर चुकी है।

--आईएएनएस

Published in टेक

माइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर ने कट्टर दक्षिणपंथी कार्यकर्ता लॉरा लूमर पर उनके ट्वीट के कारण हमेशा के लिए प्रतिबंध लगा दिया है। लॉरा ने मिनिएसोटा डेमोक्रेटिक रिप्रजेंटेटिव इहान ओमर और उनके मुस्लिम विचारों की आलोचना की थी। मिक डॉट कॉम की गुरुवार की रिपोर्ट के अनुसार, लूमर पर घृणास्पद व्यवहार कर ट्विटर के नियम तोड़ने के लिए प्रतिबंध लगाया गया है।

ओमर अमेरिकी संसद में चुनीं गई पहली मुस्लिम महिला प्रतिनिधियों में से हैं।

लूमर ने ट्वीट किया, "यह विडंबना नहीं है कि ट्विटर मूमेंट कैसे ईहान ओमर को 'महिलाओं, एलजीबीटीक्यू, और अल्पसंख्यकों' का प्रतीक मानती है।"

ओमर को यहूदी-विरोधी बताने के कारण उन्हें ट्विटर से हमेशा के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया।

लूमर ने एक यूट्यूब वीडियो में खुद का बचाव करते हुए कहा, "मुझे सिर्फ सच, इहान ओमर का सच बताने के कारण प्रतिबंधित कर दिया गया।"

उन्होंने आगे लिखा, "मुझे अमेरिका में शांत रखा गया है। मुझे पत्रकार के तौर पर सच बताने के लिए चुप रखा गया है। इसलिए अब मुझे जरूरत है कि आप मेरी वेबसाइट सब्सक्राइब करिए।"

ट्विटर ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, "आप अन्य लोगों को रंग, धर्म, राष्ट्रीयता, लिंग, धार्मिक विश्वास, आयु, असमर्थता या गंभीर बीमारी के लिए किसी के खिलाफ हिंसा को बढ़ावा नहीं दे सकतीं।"

प्रतिबंध से पहले ट्विटर पर लूमर के 2,60,000 फॉलोवर थे।

--आईएएनएस

Published in टेक