नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को कहा कि वह देश की सबसे पुरानी पार्टी के नए अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया में शामिल नहीं होंगे। संसद में मीडियाकर्मियों से बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा, "मैं नए अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया में भाग नहीं लूंगा, क्योंकि इससे चीजें और ज्यादा जटिल हो जाएंगी।"

लोकसभा चुनाव में पार्टी के बेहद खराब प्रदर्शन के बाद राहुल ने 25 मई को अध्यक्ष के पद से हटने का प्रस्ताव रखा था।

कांग्रेस कार्यसमिति ने उनके इस प्रस्ताव को एकमत से खारिज कर दिया था।

--आईएएनएस

Published in देश

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के जन्मदिवस पर उन्हें शुभकामनाएं दीं और कहा कि वह अपने प्रिय दोस्त राजीव गांधी को उनमें देखते हैं। मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा, "राहुल गांधी को जन्मदिन की शुभकामनाएं। इन वर्षो में आप जो बने हैं, मुझे उसपर गर्व है। मैं अपने प्रिय दोस्त राजीव गांधी को आपमें देखता हूं। भगवान आपको स्वस्थ्य और समृद्ध जीवन प्रदान करे।"

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत कई कांग्रेस नेताओं, सैकड़ों पार्टी कार्यकर्ताओं ने नई दिल्ली स्थित कांग्रेस के मुख्यालय में राहुल गांधी को जन्मदिन की बधाई दी।

--आईएएनएस

Published in पंजाब

अमेठी: अमेठी और सुल्तानपुर में कांग्रेस नेता व कार्यकर्ता बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का 49वां जन्मदिन मनाने के लिए बड़ी संख्या में निकले और झुग्गी-झोपड़ी में रहने वाले बच्चों के बीच मिठाई बांटी। दोनों जिलों में पार्टी कार्यालयों में जश्न मनाया गया, जहां पार्टी समर्थकों ने केक काटा।

अमेठी में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हनुमंत सिंह ने कहा, "अमेठी के लोग राहुल गांधी की हार पर पछता रहे हैं और उनकी जन्मदिन मनाने के लिए बड़ी संख्या में बाहर आए हैं। हम इस अवसर का इस्तेमाल किसी को कोई संदेश भेजने के लिए नहीं कर रहे हैं, हम बस अपने नेता के जन्मदिन का जश्न मना रहे हैं।"

अमेठी में कांग्रेस नेताओं ने अस्पताल में मरीजों के बीच फल वितरित किए और गरीबों को कपड़े दिए।

कांग्रेस अध्यक्ष को व्यक्तिगत रूप से बधाई देने के लिए अमेठी से कई नेता दिल्ली भी पहुंचे।

सुल्तानपुर में युवा कांग्रेस के अध्यक्ष सुब्रत सिंह 'सनी' ने कहा, "हम झुग्गी बस्ती में जा रहे हैं और यहां बच्चों को मिठाई और लिखने-पढ़ने की चीजें वितरित कर रहे हैं। हम बच्चों को केक काटने के लिए भी दे रहे हैं।"

राहुल गांधी के जन्मदिन ने स्पष्ट रूप से कांग्रेस सदस्यों में उत्साह पैदा किया है जो पार्टी के लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में अपमानजनक हार का सामना करने के बाद निराशा की भावना से घिर गए थे। राहुल गांधी अपनी अमेठी सीट केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से हार गए थे।

--आईएएनएस

नई दिल्ली: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को उनके जन्मदिन पर बधाई दी और देश व लोगों के हित में उनसे पार्टी प्रमुख बने रहने का आग्रह किया। गहलोत यहां राहुल के जन्मदिवस समारोह में भाग लेने के लिए कांग्रेस कार्यालय में मौजूद थे।

राहुल के जाने के बाद, गहलोत ने मीडिया से कहा, "हमने राहुलजी से देश व लोगों के हित में पार्टी का नेतृत्व संभाले रहने का आग्रह किया है।"

कांग्रेस अध्यक्ष ने लोकसभा में पार्टी के शर्मनाक प्रदर्शन के बाद शीर्ष पद से इस्तीफा देने की पेशकश की थी। पार्टी को केवल 52 सीटें मिली हैं।

गहलोत ने कहा, "राहुल गांधी ने बीते पांच वर्षो में बेरोजगारी और युवाओं के मुद्दे पर नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ लड़ाई छेड़ी हुई है।"

उन्होंने कहा कि भाजपा ने राष्ट्रवाद, धर्म और सशस्त्र बलों के शौर्य का मुद्दा उठाकर आम चुनाव में जीत दर्ज की।

उन्होंने कहा, "आज हमारे पास लोकसभा में 52 सीटें हैं, लेकिन भाजपा को यह नहीं भूलना चाहिए कि कांग्रेस का छह लाख से ज्यादा गांवों में संगठन है।"

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी कांग्रेसी सांसदों को राहुल के नेतृत्व पर पूरा भरोसा है।

गहलोत ने कहा, "राहुल गांधी अपने दिल से बोलते हैं। राहुल वह आदमी नहीं है जिनकी कथनी और करनी में अंतर होता है।"

--आईएएनएस

Published in देश

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बुधवार को 49 वर्ष के हो गए और इस अवसर पर कांग्रेस ने जश्न मनाया। उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी जन्मदिन की बधाई दी। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पार्टी महासचिव के.सी. वेणुगोपाल समेत कई पार्टी समर्थक राहुल गांधी से मिलने और उन्हें बधाई देने के लिए अकबर रोड स्थित पार्टी कार्यालय पहुंचे।

लोकसभा चुनावों में राहुल गांधी के साथ तीखे शब्दों की लड़ाई करने वाले मोदी ने ट्वीट किया, "जन्मदिन के अवसर पर राहुल गांधी को शुभकामनाएं। ईश्वर उन्हें अच्छा स्वास्थ्य और दीघार्यु प्रदान करे।"

उन्हें प्रतिक्रिया देते हुए राहुल ने गर्मजोशी से लिखा, "नरेंद्र मोदी जी आपकी शुभकामनाओं के लिए धन्यवाद। मैं उनका सम्मान करता हूं।"

इस दौरान कांग्रेस के अकबर रोड स्थित मुख्यालय पर सुबह जश्न का माहौल था, वहां पार्टी समर्थक ढोल की धुनों पर नाच रहे थे।

ऐसा ही माहौल उनकी मां और संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) अध्यक्ष सोनिया गांधी के 10 जनपथ मार्ग स्थित आवास पर था जहां युवा कांग्रेस सदस्य जश्न मना रहे थे।

राहुल गांधी मिठाई के एक डब्बे के साथ पार्टी कार्यालय पहुंचे। यहां उन्होंने मीडिया कर्मियों को मिठाई बांटी।

इसके बाद उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ केट काटा।

राहुल गांधी की बहन और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पार्टी महासचिव के.सी. वेणुगोपाल, गुलाम नबी आजाद और अन्य नेताओं ने पार्टी मुख्यालय पर राहुल गांधी को बधाई दी।

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट किया, "मैं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को उनके जन्मदिन पर बधाई देता हूं।"

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट किया, "हर प्रतिकूल परिस्थिति में आपका अदम्य साहस, हर हमले के सामने सिद्धांतों के प्रति आपकी अमिट प्रतिबद्धता, धूर्तता को गुण माने जाने के दौर में आपकी सादगी और स्पष्टवादिता आपको सबसे अलग करती है। जन्मदिन की शुभकामनाएं राहुल गांधी।"

राहुल गांधी ने ट्वीट किया, "मेरे जन्मदिन पर बधाई और शुभकामनाएं देने के लिए आप सभी का धन्यवाद। आपके स्नेह और प्रेम से मैं अभिभूत हूं।"

राहुल हाल ही में संपन्न लोकसभा चुनावों में वायनाड सीट से निर्वाचित हुए है। हालांकि वे अमेठी सीट पर हार गए थे। उनके नेतृत्व में कांग्रेस ने लोकसभा चुनावों में महज 52 सीटें जीती थीं जिसके बाद राहुल गांधी ने पार्टी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की पेशकश की थी।

--आईएएनएस

Published in देश

नई दिल्ली: संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन(संप्रग) की अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मंगलवार को गठबंधन में शामिल पार्टियों के नेताओं के साथ बजट सत्र के दौरान संसद में रणनीति अपनाने को लेकर बैठक की। बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, माकपा नेता डी. राजा, द्रमुक की कनिमोझी और टी.आर. बालू, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की सांसद सुप्रिया सुले, नेशनल कांफ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला, वीसीके नेता थिरुमावालन थोल, आरएसपी नेता एन.के. प्रेमचंद्रन, आईयूएमएल नेता पी.के. कुन्हलिकुट्टी और केसी-एम नेता थॉमस छाझीकदन मौजूद थे।

पार्टी सूत्रों ने कहा कि नेताओं ने बजट सत्र के दौरान 'एक राष्ट्र-एक चुनाव', तीन तलाक और अन्य मुद्दों पर संसद में भाजपा-नीत राजग को घेरने के लिए रणनीति बनाई।

बजट सत्र के दौरान, लोकसभा और राज्यसभा में 17 जून से लेकर 26 जुलाई तक क्रमश: 30 और 27 बैठकें होंगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को संसद में सर्वदलीय बैठक के दौरान नेताओं को अपने राजनीतिक मतभेदों को भुलाकर दोनों सदनों की कार्यवाही में व्यवधान उत्पन्न नहीं करने का आग्रह किया था। उन्होंने इसके साथ ही सभी राजनीतिक पार्टियों को संसद को सामान्य रूप से चलने देने के लिए सरकार के साथ मिलकर काम करने का आह्वान किया था।

--आईएएनएस

Published in देश

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को लगातार चौथी बार लोकसभा सदस्य के रूप में शपथ ली, लेकिन शपथ लेने के बाद वह संसद पंजिका पर हस्ताक्षर करना भूल गए। अधिकारियों और कई सांसदों द्वारा याद दिलाए जाने के बाद राहुल ने हस्ताक्षर किए।

राहुल केरल के वायनाड से संसद के लिए निर्वाचित हुए हैं। उन्होंने अपने परिवार के गढ़ अमेठी लोकसभा सीट से भी चुनाव लड़ा था, लेकिन केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से वह 55,000 से अधिक मतों से चुनाव हार गए।

गांधी ने सोमवार अपराह्न् अंग्रेजी में शपथ ली और उसके बाद अपनी सीट की तरफ बढ़ गए। इसके बाद उन्हें आवश्यक हस्ताक्षर के बारे में याद दिलाया गया, उसके बाद उन्होंने पंजिका पर हस्ताक्षर किए।

दिन में इसके पहले सत्ताधारी दल के सदस्यों ने उन्हें अनुपस्थित पाया और उनके बारे में पूछा।

उनकी अनुपस्थिति पर सवाल उठाए जाने के तत्काल बाद गांधी ने ट्विटर पर लिखा, "लोकसभा सदस्य के रूप में मेरा चौथा कार्यकाल आज से शुरू। केरल के वायनाड का प्रतिनिधित्व करते हुए मैं इस अपराह्न् शपथ ग्रहण के साथ अपनी नई पारी शुरू कर रहा हूं। मैं भारत के संविधान के प्रति सच्चा विश्वास और निष्ठा रखूंगा।"

बजट सत्र के प्रथम दो दिनों तक नवनिर्वाचित 542 सांसदों को शपथ दिलाई जाएगी।

इसकी प्रक्रिया राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने प्रोटेम स्पीकर वीरेंद्र कुमार को शपथ दिलाने के साथ शुरू की। इसके बाद कुमार ने अन्य सांसदों को शपथ दिलाई।

कांग्रेस ने सदन में अपने नेता की घोषणा अभी नहीं की है।

--आईएएनएस

Published in देश

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने यहां अपने आवास पर अपनी बहन और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ हरियाणा के नेता कुलदीप बिश्नोई से मुलाकात की।

पार्टी के एक सूत्र के मुताबिक, राहुल गांधी कथित तौर पर एक विदेश यात्रा से रविवार देर रात राष्ट्रीय राजधानी पहुंचे। सूत्र ने हालांकि, यह खुलासा करने से इंकार कर दिया कि वह कहां गए थे।

उनके दिल्ली पहुंचने पर, प्रियंका गांधी वाड्रा उनके घर पहुंचीं, जहां उन्होंने और राहुल गांधी ने बिश्नोई से मुलाकात की। बिश्नोई ने इस लोकसभा चुनाव में हरियाणा के हिसार से चुनाव लड़ा था।

कांग्रेस हरियाणा में पार्टी का नेतृत्व करने के लिए किसी गैर-जाट नेता को तलाश रही है, जहां उसे 10 में से एक भी सीट नहीं मिली।

पिछले दो सप्ताह से, प्रियंका गांधी, राहुल गांधी के आवास पर पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठकें कर रही हैं।

पार्टी सूत्रों ने कहा कि वह हर मंगलवार और गुरुवार को राष्ट्रीय राजधानी में पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं से मुलाकात करेंगी।

--आईएएनएस

 

 

Published in देश

नई दिल्ली: कांग्रेस कोर समिति के सदस्यों ने बुधवार को यहां बैठक की और हरियाणा, महाराष्ट्र, झारखंड और जम्मू एवं कश्मीर विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी की तैयारी पर चर्चा की। बैठक की अध्यक्षता वरिष्ठ कांग्रेस नेता ए.के. एंटनी ने की।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बैठक के बाद संवाददाताओं से बातचीत में कहा, "राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष थे, है और रहेंगे। हममें से किसी को भी इस बारे में कोई संदेह नहीं होना चाहिए।"

उनसे राहुल गांधी के अध्यक्ष पद से इस्तीफे पर अड़े रहने के बारे में पूछा गया। पिछले महीने कांग्रेस कार्यकारिणी की बैठक में राहुल ने लोकसभा चुनाव में पार्टी के खराब प्रदर्शन की जिम्मेदारी लेते हुए पद छोड़ने की पेशकश की थी। लेकिन सीडब्ल्यूसी ने उनकी पेशकश खारिज कर दी थी।

सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा कि फिलहाल पार्टी की कोई कोर समिति नहीं है, क्योंकि लोकसभा चुनाव से पहले गठित समिति का कार्यकाल चुनाव समाप्त होने के बाद समाप्त हो गया है।

उन्होंने कहा, "कयासों के विपरीत कोई कोर समिति नहीं है। पूर्व कोर समिति के सदस्यों ने अनौपचारिक बैठक की और विधानसभा चुनाव की तैयारियों पर चर्चा की।"

उन्होंने कहा कि संगठन के प्रभारी महासचिव के.सी. वेणुगोपाल विधानसभा चुनाव की तैयारियों के लिए अपने महासचिवों की एक बैठक बुलाएंगे।

सुरजेवाला ने कहा कि संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी संसद सत्र शुरू होने से पहले इसपर कोई निर्णय लेंगी।

नौ सदस्यीय कोर समिति लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस की तैयारियों के हिस्से के रूप में पिछले साल अगस्त में गठित की गई थी।

समिति में एंटनी, वेणुगोपाल और सुरजेवाला के अलावा गुलाम नबी आजाद, पी. चिदंबरम, अशोक गहलोत, मल्लिकार्जुन खड़गे, अहमद पटेल और जयराम रमेश शामिल थे।

--आईएएनएस

Published in देश

कलपेट्टा (केरल): कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को यहां कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झूठ बोलकर लोकसभा चुनाव जीता।

राहुल ने अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, "मोदी ने झूठ बोलकर और नफरत फैलाकर चुनाव जीता। लेकिन हम उन्हें इसका जवाब सच्चाई, प्रेम और स्नेह से देंगे।"

उन्होंने कलेक्टरेट कार्यालय स्थित वायनाड लोकसभा सदस्य के कार्यालय के दौरे के साथ अपने निर्वाचन क्षेत्र के दौरे की शुरुआत की, जहां उन्होंने कई लोगों से बातचीत की।

उन्होंने लोगों से कहा, "वायनाड में सभी लोगों के लिए मेरे दरवाजे खुले हैं और यहां के लोगों की समस्याओं को हल करना मेरी जिम्मेदारी है।"

राहुल को कलपेट्टा में उनका रोडशो देखने आए लोगों के साथ बातचीत करते देखा गया।

वह शुक्रवार को वायनाड में मतदाताओं को धन्यवाद देने पहुंचे। राहुल शनिवार को दो और रोडशो करेंगे।

कांग्रेस अध्यक्ष के साथ प्रदेश पार्टी अध्यक्ष मुल्लापल्ली रामचंद्रन, विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला और एआईसीसी के महासचिव (संगठन) के.सी. वेणुगोपाल मौजूद थे।

--आईएएनएस

 

 

Published in केरल