लाहौर: भारत और पाकिस्तान के खिलाफ आईसीसी विश्व कप में हुए मैच में पाकिस्तान की हार के बाद उसके प्रशंसक जितने नाराज हैं उतने ही पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी भी। पूर्व विकेटकीपर कामरान अकमल ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से अपील की है कि वह सरफराज अहमद के नेतृत्व वाली पाकिस्तानी टीम के खिलाफ सख्त कदम उठाएं।

कामरान ने पाकिस्तान के अंग्रेजी अखबार 'द नेशन' से कहा, "पाािकस्तान ने विश्व कप में ऐसा कोई मैच नहीं जीता जिसमें उसने रनों का पीछा किया हो। पाकिस्तान की एकमात्र जीत तब आई जब उसने मेजबान टीम इंग्लैंड के खिलाफ पहले बल्लेबाजी कर 300 से ज्यादा का स्कोर किया और उसका सफलतापूर्वक बचाव किया। वेस्टइंडीज के खिलाफ हम पूरी तरह से बिखर गए और 105 रन ही बना सके। हमारी बल्लेबाजी की कलई खुल गई थी और गलतियां सामने आई थीं।"

पूर्व विकेटकीपर ने कहा, "मैं प्रधानमंत्री इमरान खान, जो पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के पैटर्न भी हैं, से अपील करता हूं कि जिन्होंने पाकिस्तानी क्रिकेट का नुकसान किया है उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। हमारे पास कई अच्छे खिलाड़ी हैं जिन्हें अगर मेरिट के आधार पर मौका मिलता है तो वह पाकिस्तानी बल्लेबाजी और गेंदबाजी को मजबूत कर सकते हैं और पाकिस्तान को एक अच्छे स्तर पर ले जा सकते हैं।"

पीसीबी ने बुधवार को ही कहा था कि वह विश्व कप के बाद अपन टीम की 'सख्त समीक्षा' करेगी।

--आईएएनएस

Published in क्रिकेट

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के जल्दी स्वस्थ होने की कामना की है।

धवन अंगूठे में चोट के कारण इंग्लैंड एंड वेल्स में जारी विश्व कप से बाहर हो गए हैं।

विश्व कप से बाहर होने के बाद धवन ने एक वीडियो ट्वीट किया था। इस ट्वीट को रिट्वीट कर प्रधानमंत्री ने लिखा है, "प्रिय धवन, इसमें कोई शक नहीं है कि पिच आपको याद करेगी, लेकिन मुझे उम्मीद है कि आप जल्दी से जल्दी ठीक हो जाएंगे और एक बार फिर मैदान पर वापसी करेंगे और देश की कई जीतों में अपना योगदान देंगे।"

धवन को पांच जून को आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए मैच में पैट कमिंस की गेंद पर अंगूठे में चोट लग गई थी। धवन ने उस मैच में 109 गेंदों पर 117 रनों की पारी खेली थी।

बुधवार को बीसीसीआई ने धवन के विश्व कप के बाकी मैच न खेलने की पुष्टि कर दी थी और आईसीसी से युवा ऋषभ पंत को टीम में शामिल करने की अपील की थी जिसे क्रिकेट की सर्वोच्च संस्था ने मान लिया था।

--आईएएनएस

Published in क्रिकेट

साउथम्पटन: अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने बुधवार देर रात युवा ऋषभ पंत को चोटिल शिखर धवन के स्थान पर भारत की विश्व कप टीम में शामिल करने की मंजूरी दे दी है। धवन अंगूठे में चोट के कारण विश्व कप-2019 से बाहर हो गए हैं। उनके स्थान पर बीसीसीआई ने पंत को टीम में शामिल करने के लिए आईसीसी से अपील की थी, जिसे उसने मंजूर कर लिया है।

बीसीसीआई की आधिकारिक वेबसाइट पर लिखा है, "आईसीसी ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि उसकी टूर्नामेंट तकनीकी समिति ने आईसीसी पुरुष विश्व कप-2019 में पंत को धवन के विकल्प के तौर पर मंजूरी दे दी है। पंत बाकी के मैचों में भारतीय टीम का हिस्सा होंगे।"

इससे पहले दिन में बीसीसीआई ने धवन के विश्व कप के बाकी मैचों में उपलब्ध न होने की जानकारी दी थी। उनके हाथ के अंगूठे में चोट है और वह टूर्नामेंट तक ठीक होने की स्थिति में नहीं हैं।

धवन के विश्व कप से बाहर होने की खबर सबसे पहले आईएएनएस ने दी थी। टीम मैनेजर सुनिल सुब्रह्मण्यम ने साउथम्पटन में बुधवार को मीडिया से बात कर इस बात की पुष्टि की। साथ ही बीसीसीआई ने भी ट्वीट कर धवन के बाहर होने का ऐलान किया।

सुनील ने कहा, "धवन के बांए हाथ में फ्रैक्चर है। कई विशेषज्ञों की सलाह को मानते हुए धवन जुलाई के मध्य तक निगरानी में रहेंगे, इसलिए वह आईसीसी विश्व कप-2019 के बाकी के मैचों में हिस्सा नहीं ले पाएंगे। हमने आईसीसी से ऋषभ पंत को धवन के विकल्प के तौर पर टीम में शामिल करने की अपील की है।"

यह जानकारी आईएएनएस को मिली थी कि धवन ने बुधवार सुबह विशेषज्ञों को दिखाया था और इसके बाद ही पंत को टीम में शामिल करने का अनुरोध किया गया।

बीसीसीआई ने धवन की चोट को लेकर ट्वीट किया, "धवन को बाएं हाथ में फ्रैक्चर है। उन्हें पांच जून 2019 को आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले मैच में चोट लगी थी।"

धवन के स्थान पर लोकेश राहुल ने सलामी बल्लेबाजी का जिम्मा उठाया था। धवन ने पांच जून को आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए मैच में शतक जमाया था।

धवन को जब चोट लगी थी उसके कुछ ही दिन बाद युवा-विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत इंग्लैंड पहुंच गए थे और पाकिस्तान के खिलाफ मैनचेस्टर में खेले गए मैच से पहले ही टीम के साथ जुड़ गए थे।

भारतीय टीम के सहायक कोच संजय बांगर सहित कप्तान विराट कोहली ने इस बात की उम्मीद जताई थी कि धवन सेमीफाइनल से पहले ठीक हो जाएंगे। उन्होंने कहा था कि वे नहीं चाहते कि धवन टीम से बाहर जाएं। लेकिन, चोट ने धवन को बाहर कर दिया।

--आईएएनएस

 

 

 

Published in क्रिकेट

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने बुधवार को जम्मू एवं कश्मीर के तेज गेंदबाज रासिख सलाम को उम्र संबंधी फर्जीवाड़ा करने के लिए दो साल के प्रतिबंधित कर दिया है। रासिख इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2019 में मुंबई इंडियंस के लिए भी खेले थे।

बोर्ड ने एक बयान जारी कर इंग्लैंड में 21 जुलाई से शुरू हो रहे अंडर-19 इंडिया के तौर पर रासिख के स्थान पर प्रभात मौर्या को टीम में जगह दी है।

बीसीसीआई ने बयान में कहा, "अखिल भारतीय जूनियर चयन समिति ने 21 जुलाई से शुरू हो रहे इंग्लैंड दौरे के लिए रासिख के स्थान पर प्रभात को टीम में चुना है। रासिख को बीसीसीआई ने उम्र संबंधी गलत दस्तावेज जमा करने के कारण दो साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया है।"

रासिख को नौ जून को अंडर-19 टीम में शामिल किया गया था। भारत की जूनियर टीम को इंग्लैंड में तीन मैचों की वनडे सीरीज खेलनी हैं।

--आईएएनएस

Published in क्रिकेट

नई दिल्ली: इंग्लैंड एंड वेल्स में जारी विश्व कप के बाद पाकिस्तान क्रिकेट टीम और इसका सपोर्ट स्टाफ 'सख्त समीक्षा' से गुजरेगा। देश के क्रिकेट बोर्ड ने बुधवार को यह बात कही। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने कहा है कि विश्व कप के बाद टीम और उसके सपोर्ट स्टाफ की समीक्षा की जाएगी और इसकी रिपोर्ट बोर्ड के अध्यक्ष एहसान मनी को सौंपी जाएगी। साथ ही बोर्ड ऑफ गवर्नर (बीओजी) के पास भी यह रिपोर्ट जाएगी।

लाहौर में पीसीबी मुख्यालय में हुई बैठक के बाद जारी की गई प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है, "बीओजी ने बैठक में पाकिस्तान क्रिकेट टीम द्वारा हाल के दिनों में खेल के तीनों प्रारूप में किए गए प्रदर्शन पर चर्चा की है।"

बयान के मुताबिक, "सभी सदस्य इस बात पर एकमत हुए कि इंग्लैंड में जारी विश्व कप में टीम का प्रदर्शन उम्मीदों से काफी बुरा है, लेकिन सभी ने टीम में विश्वास, समर्थन जताया है। साथ ही उम्मीद जताई है कि टीम बाकी के मैचों में अच्छी वापसी करेगी।"

विज्ञप्ति के मुताबिक, "इस बात पर सभी की सहमति बनी है कि विश्व कप के बाद पीसीबी, टीम और उसके सपोर्ट स्टाफ की बीते तीन साल के प्रदर्शन की कड़ी समीक्षा करेगा और बोर्ड के चेयरमैन तथा बीओजी को इसकी रिपोर्ट भेजी जाएगी।"

पाकिस्तानी टीम इस समय विश्व कप में नौवें स्थान पर है। उसे हाल ही में भारत के हाथों शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा।

--आईएएनएस

Published in क्रिकेट

नॉटिंघम: बांग्लादेश ने जब आईसीसी विश्व कप-2019 के अपने पहले मैच में दक्षिण अफ्रीका को मात दी थी तो सभी ने उलटफेर कहा था, लेकिन बांग्लादेश ने अपने पिछले मैच में वेस्टइंडीज को जिस अंदाज में हराया है, उसे देखकर अब कोई भी उसे कमजोर टीम नहीं कह रहा। आत्मविश्वास से लैस बांग्लादेश के सामने गुरुवार को मौजूदा विजेता आस्ट्रेलिया की चुनौती है। दोनों टीमें यहां ट्रेंट ब्रिज मैदान पर भिड़ेंगी।

वेस्टइंडीज के खिलाफ बांग्लादेश ने विश्व कप में दूसरे नंबर का सबसे सफल चेस किया और रनों का पीछा करते हुए अपनी अभी तक की सबसे बड़ी जीत हासिल की।

बांग्लादेश ने वेस्टइंडीज द्वारा रखे गए 322 रनों के लक्ष्य को 50 गेंद शेष रहते हुए हासिल कर लिया।

इस जीत के हीरो वर्ल्ड नंबर-1 ऑलराउंडर शाकिब अल हसन रहे थे। शकिब ने नाबाद 124 रनों की पारी खेली थी और लिट्टन दास ने नाबाद 94 रन बनाकर शाकिब का साथ दिया था। इन दोनों की जुगलबंदी ने बांग्लादेश को ऐतिहासिक जीत दिलाई थी।

शाकिब इस समय गजब की फॉर्म में हैं। वह 384 रनों के साथ इस विश्व कप में बल्लेबाजों की सूची में पहले नंबर पर हैं। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भी उन्होंने बेहतरीन पारी खेली थी।

शाकिब ने इस टूर्नामेंट में अभी तक नंबर-3 पर बल्लेबाजी की है जिससे उन्हें विकेट पर ज्यादा समय बिताने का मौका मिल रहा है जो टीम के लिए काफी फायदेमंद रहा है। आस्ट्रेलियाई टीम के लिए शाकिब सबसे बड़ी चुनौती हैं क्योंकि जिस तरह की क्रिकेट शाकिब खेलते हैं, वो निडर है। सामने कोई भी गेंदबाज हो, वे दबाव नहीं लेते।

मिशेल स्टार्क बाएं हाथ के बल्लेबाजों के लिए हमेशा से चुनौती रहे हैं। ऐसे में शाकिब और स्टार्क की प्रतिस्पर्धा देखने लायक होगी।

एक बात हालांकि तय है। वो ये कि दोनों टीमें एक-एक खिलाड़ी को ध्यान में रखकर या उसे निशाना बनाकर मैदान पर नहीं उतरेंगी।

आस्ट्रेलिया जानती है कि बांग्लादेश के पास तमीम इकबाल भी हैं और वो भी फॉर्म में हैं। शाकिब के साथ मिलकर पहले मैच में टीम को जीत दिलाने वाले मुश्फीकुर रहीम भी अपने बल्ले से रन बरसाने का दम रखते हैं। लिटन दास ने भी बताया है कि वह मध्य क्रम में भी अच्छा खेल सकते हैं और साझेदारियां कर सकते हैं।

इन सभी के अलावा सौम्य सरकार, महमदुल्ला, मोसद्दक हुसैन और कप्तान मशरफे मुर्तजा भी अच्छी बल्लेबाजी करने और मैच का पासा पलटने का दम रखते हैं।

शाकिब और बांग्लादेश टीम भी जानती है कि स्टार्क के अलावा भी आस्ट्रेलिया के पास अच्छे गेंदबाज हैं जिनमें पैट कमिंस, नाथन कल्टर नाइल, जेसन बेहरनडॉर्फ हैं और स्पिन में लेग स्पिनर एडम जाम्पा हैं। स्टार्क ने जो बीते मैचों में किया है, उससे उनके ऊपर ज्यादा तवज्जो रहेगी। स्टार्क ने तीन मैच आस्ट्रेलिया को उस स्थिति से जिताएं हैं जहां वो हार की तरफ बढ़ती दिख रही थी।

वहीं अगर आस्ट्रेलिया की बल्लेबाजी की बात की जाए तो डेविड वार्नर, कप्तान एरॉन फिंच और स्टीवन स्मिथ को अगर बांग्लादेश जल्दी आउट कर पाती है तो उसके लिए मौजूदा विजेता को बड़े स्कोर पर जाने से रोकना आसान हो जाएगा। एशियाई टीम किसी भी सूरत में उस्मान ख्वाजा, ग्लैन मैक्सवेल और मार्कस स्टोइनिस को नजरअंदाज नहीं कर सकती।

आस्ट्रेलिया को रोकने के लिए बांग्लादेश के मुस्तफिजुर रहमान और मोहम्मद सैफुद्दीन की तेज गेंदबाजी जोड़ी को अहम भूमिका निभानी होगी। स्पिन में शाकिब के अलावा मेहंदी हसन मिराज को जिम्मेदारी लेनी होगी।

टीमें :

आस्ट्रेलिया : एरॉन फिंच (कप्तान), जेसन बेहरनडार्फ, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), नाथन कल्टर नाइल, पैट कमिंस, उस्मान ख्वाजा, नाथन लॉयन, शॉन मार्श, ग्लैन मैक्सवेल, केन रिचर्डसन, स्टीव स्मिथ, मिशेल स्टार्क, मार्कस स्टोइनिस, डेविड वार्नर, एडम जाम्पा।

बांग्लादेश : मशरफे मुर्तजा (कप्तान), तमीम इकबाल, सौम्य सरकार, शब्बीर रहमान, रुबेल हुसैन, मुस्तफिजुर रहमान, अबु जायेद, महमदुल्ला, मोहम्मद सैफुद्दीन, मोसद्दक हुसैन, शाकिब अल हसन, मेहंदी हसन, लिटन दास (विकेटकीपर), मुश्फीकुर रहीम (विकेटकीपर), मोहम्मद मिथुन।

--आईएएनएस

Published in क्रिकेट

लंदन: सेकेंड़ इलेवन चैम्पियनशिप में एमसीसी यंग क्रिकेटर्स की तरफ से खेल रहे भारत के अर्जुन तेंदुलकर ने अपनी बेहतरीन गेंदबाजी से कई लोगों का दिल जीता है। अर्जुन ने इस टूर्नामेंट में सरे की दूसरी डिविजन टीम के खिलाफ सोमवार को खेले गए मैच में शानदार गेंदबाजी की। अर्जुन ने अपनी विपक्षी टीम के सलामी बल्लेबाज नाथन टिले को जिस तरह से बोल्ड किया उस गेंद ने सभी का दिल जीता।

इस विकेट का वीडियो लॉर्ड्स क्रिकेट ग्राउंड के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से ट्वीट किया गया है जिसने कई लोगों का ध्यान अपनी तरफ खिंचा।

ट्वीट में लिखा है, "अर्जुन तेंदुलकर की शानदार गेंदबाजी। उन्होंने एमसीसीवाइसी4एल के लिए इस सुबह यह शानदार विकेट लिया।"

अर्जुन बाएं हाथ के तेज गेंदबाज हैं। वह भारत की अंडर-19 टीम का हिस्सा भी रह चुके हैं।

--आईएएनएस

Published in क्रिकेट

नई दिल्ली: इंग्लैंड के इयोन मोर्गन एक वनडे पारी में सबसे अधिक छक्के लगाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। मोर्गन ने मंगलवार को अफगानिस्तान के खिलाफ 17 छक्के लगाए। ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर अफगान टीम के खिलाफ विश्व कप मुकाबले में खेलते हुए मोर्गन ने एक पारी में सबसे अधिक 16 छक्के लगाने भारत के रोहित शर्मा, वेस्टइंडीज के क्रिस गेल और दक्षिण अफ्रीका के अब्राहम डिविलियर्स के रिकार्ड को पीछे छोड़ दिया।

मोर्गन ने अपनी 71 गेंदों की पारी में चार चौके और 17 छक्के लगाए और 148 रनों पर आउट हुए। रोहित ने 2013 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ अपनी 209 रनों की पारी के दौरान 158 गेंदों का सामना करते हुए 12 चौके और 16 छक्के लगाए थे।

इसी तरह, डिविलियर्स ने 2015 में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली गई अपनी 149 रनों की तूफानी पारी के दौरान 44 गेंदों का सामना करते हुए नौ चौके और 16 छक्के लगाए थे।

जहां तक गेल की बात है तो उन्होंने 2015 में जिम्बाब्वे के खिलाफ अपनी 147 गेंदों की पारी में 10 चौकों और 16 छक्कों की मदद से 215 रन बनाए थे।

सबसे अधिक छक्के लगाने वाले बल्लेबाजों की सूची में तीसरे स्थान पर आस्ट्रेलिया के शेन वॉटसन का नाम है। वॉटसन ने 2011 में बांग्लादेश के खिलाफ अपनी 96 गेंदों की पारी के दौरान 15 चौके और 15 छक्के लगाते हुए नाबाद 185 रन बनाए थे।

--आईएएनएस

Published in क्रिकेट

टॉनटन: वेस्टइंडीज ने सोमवार को आईसीसी विश्व कप-2019 के मैच में बांग्लादेश के सामने 322 रनों का लक्ष्य रखा है।

द कूपर एसोसिएट्स काउंटी ग्राउंड पर खेले जा रहे मैच में वेस्टइंडीज ने शाई होप, इविन लुइस तथा शिमरन हेटमायेर के अर्धशतक के दम पर 50 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 321 रन बनाए।

होप ने 121 गेंदों पर 96 रन बनाए। उन्होंने चार चौके और एक छक्का लगाया। लुइस ने 67 गेंदों पर छह चौके और दो छक्कों की मदद से 70 रनों की पारी खेली। हेटमायेर ने तूफानी अंदाज में 26 गेंदों का सामना कर चार चौके और तीन छक्के जड़ 50 रन बनाए।

बांग्लादेश की तरफ से मुस्ताफिजुर रहमान और मोहम्मद सैफउद्दीन ने तीन-तीन विकेट लिए। शाकिब अल हसन को दो सफलताएं मिलीं।

--आईएएनएस

Published in क्रिकेट

मैनचेस्टर: भारत के खिलाफ विश्व कप में रविवार को हार झेलने के बाद पाकिस्तान के कप्तान सरफराज खान ने माना कि टूर्नामेंट के समीफाइनल में पहुंचना उनकी टीम के लिए मुश्किल होता जा रहा है। 

ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर हुए मैच में भारत ने डकवर्थ-लुइस नियम के आधार पर पाकिस्तान को 89 रनों से करारी शिकस्त दी।

इस हार के बाद पाकिस्तान पांच मैचों में तीन अंकों के साथ नौवें पायदान पर काबिज है। अंतिम-4 में पहुंचने के लिए पाकिस्तान को अब चारों मैच जीतने होंगे और अन्य मैचों के नतीजों पर भी निर्भर रहना होगा।

सरफराज ने कहा, "निश्चित रूप से यह मुश्किल होता जा रहा है, लेकिन हमारे पास चार मैच हैं और हमें उम्मीद है कि हम सभी मैच जीतेंगे।"

पाकिस्तान के खिलाफ सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने दमदार बल्लेबाजी की और 113 गेंदों पर 140 रन जड़े।

सरफराज ने कहा, "हमने अच्छा टॉस जीता, लेकिन दुर्भाग्यवश सही इलाकों में गेंदबाजी नहीं कर पाए। रोहित को श्रेय जाता है, उन्होंने अच्छा खेला। हमारी योजना आगे गेंदबाजी करने के थी, लेकिन हम सही जगहों पर गेंद नहीं डाल पाए। हमने टॉस जीतने के बाद उसका फायदा नहीं उठाया और बहुत सारे रन दिए।"

इस जीत के साथ विश्व कप में भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ अपना अजेय रिकॉर्ड बरकरार रखा है।

--आईएएनएस

Published in क्रिकेट