पीएम मोदी ने नवी मुंबई एयरपोर्ट की आधारशिला रखी

मुंबई : पीएम नरेंद्र मोदी ने रविवार को नवी मुंबई एयरपोर्ट की आधारशिला रखी. उन्होंने कहा कि विश्व व्यापार का लाभ तब होता है जब विश्व के साथ जुड़ने के लिए आपके पास विश्व जैसा इंफ्रास्ट्रक्चर हो. भारत एक भाग्यवान देश रहा कि सामूहिक शक्ति को पहचानने वाले पहले राष्ट्रपुरुष छत्रपति शिवाजी महाराज थे. पीएम ने कहा कि एविएशन सेक्टर की ताकत देश के टूरिज्म को बल देंगे. 


पीएम ने कहा कि आज नवी मुंबई में ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट बनने जा रहा है. आजादी के बाद एविएशन सेक्टर का इतना बड़ा ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट पहली बार हो रहा है. कई सरकारें इस वादे पर बनी होंगी, लेकिन एयरपोर्ट नहीं बना. कई विधायक और सांसद इस वादे के साथ ही जीत गए होंगे. पीएम ने कहा कि अटल विहारी वाजपेयी की सरकार के समय में इस एयरपोर्ट का वादा किया गया था.
 

pm

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मुंबई पहुंचने पर हवाई अड्डे पर पीएम मोदी का स्वागत किया.

 
 


पीएम ने कहा कि एविएशन सेक्टर काफी तेज गति से आगे बढ़ रहा है. आज से 20-25 साल पहले पूरे हिन्दुस्तान के एयरपोर्ट पर जितना ट्रैफिक था, आज उससे ज्यादा अकेले मुंबई एयरपोर्ट पर ट्रैफिक है. आज वक्त ऐसा बदल चुका है, जैसे आप बस की लाइन देखते हैं, वैसी ही लाइन एयरपोर्ट पर देखने को मिलेगी. उन्होंने कहा कि यह भीड़ देश के कई एयरपोर्ट पर आपको देखने को मिलेगा.

पीएम ने कहा कि जिस तेजी से एविएशन सेक्टर का ग्रोथ हो रहा है, उसकी आवश्यकता के अनुसार हम हम एविएशन सेक्टर के इंफ्रास्ट्रक्चर में काफी पीछे चल रहे हैं. हम कई वर्षों पहले (80 के दशक में) ऐसा सुनते थे कि 21वीं सदी आ रही है, 21वीं सदी आ रही है, लेकिन उस शब्द से आगे ही नहीं बढ़े. अगर हमने उस समय यह सोचा होता कि 21वीं सदी का एविएशन सेक्टर कैसा होगा, तो हमे इतनी दौर नहीं लगानी होती.

आजादी के बाद किसी सरकार ने किसी भी सरकार ने एविएशन पॉलिसी नहीं लाई. एक जमाना था, जब अटल जी की सरकार थी, हवाईजहाज पर राजा-महाराजाओं के चित्र होते थे. उस समय मैंने एविएशन मिनिस्टर से कहा कि इस पर राजा महाराजाओं के चित्र क्यों लगाए गए हैं. अब तो आपको लक्ष्मण के कार्टून में जो 'कॉमन मैन' होता है उसकी तस्वीर लगानी चाहिए, वो हवाईजहाज में बैठता है. बाद में अटल जी की सरकार के समय शुरू भी किया गया. हमने कहा क्यों न इस देश में जो 'हवाई चप्पल' पहनता है वह भी हवाईजहाज में उड़ना चाहिए. हमने उड़ान योजना लाई. देश में 100 से ज्यादा नए एयरपोर्ट बनाना या पुराने पड़े एयरपोर्ट को ठीक करना और कार्यरत करने की दिशा में हम काम कर रहे हैं.

पीएम ने कहा कि आपको जानकर खुशी होगी कि हमारे देश में इतने वर्षों से जो हवाई जहाज खरीदे गए, चलाए गए. आज हमारे देश में करीब-करीब 450 हवाई जहाज सेवा में हैं. आजादी से अब तक हम 450 तक पहुंचे हैं. वहीं, इस एक साल में 900 नए हवाईजहाज के ऑर्डर बुक किए गए हैं. आप कल्पना कर सकते हैं कि कितनी तेजी से एविएशन सेक्टर बढ़ रहा है.

POPULAR ON IBN7.IN