यूथ ओलंपिक में चमक बिखेरने वाले ये युवा क्या टोक्यो में भी चमक पाएंगे?
Sunday, 13 October 2019 17:55

  • Print
  • Email

नई दिल्ली: ब्राजील में 2018 में आयोजित यूथ ओलंपिक खेलो में कई खिलाड़ियों ने अपनी चमक से दुनिया को आकर्षित किया था। ये खिलाड़ी युवा हैं, प्रतिभाशाली हैं और लगातार शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। अब देखने वाली बात यह है कि क्या ये अपनी बीती चमक को टोक्यो में अगले साल होने वाले ग्रीष्मकालीन ओलंपिक खेलों में दोहरा पाएंगे?

इन खिलाड़ियों में भारत के निशानेबाज मनु भाकेर और सौरभ चौधरी भी शामिल हैं, जिन्होंने ब्यूनस आयर्स में क्रमश: महिलाओं एवं पुरुषों के 10 मीटर एअर पिस्टल स्पर्धाओं में सोना जीता था। ऐसे ही कुछ युवा खिलाड़ियों पर एक नजर :

1. मनु भाकेर और सौरभ चौधरी :-भारतीय निशानेबाज मनु और सौरभ ने 2018 यूथ ओलंपिक खेलो में क्रमश: महिला और पुरुषों के 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता था। उसके बाद से इस जोडी ने आईएसएसफ विश्व कप निशानेबाजी के मिश्रित टीम 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में भी अपना वर्चस्व कायम किया था।

मिश्रित टीम 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा उन तीन मिश्रित टीम स्पर्धाओं में से एक हैं, जोकि टोक्यो ओलंपिक खेलों में पहली बार आयोजित किया जाएगा। भाकेर और सौरभ 2019 आईएसएसएफ विश्व कप के सभी चार स्पर्धाओं में स्वर्ण पदक जीत चुके हैं और अब टोक्यो ओलंपिक के लिए वे प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं।

2 . क्रिस्टोफ मिलक:- हंगरी के तैराक क्रिस्टोफ मिलक 2018 यूथ ओलंपिक खेलों में तीन स्वर्ण और एक रजत पदक जीत चुके हैं और अब वह सीनियर स्तर पर अपनी छाप छोड़ने के लिए तैयार हैं। 19 वर्षीय क्रिस्टोफ इस साल जुलाई में ग्वांगजू में हुई फीना विश्व एक्वेटिक्स चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर माइकल फेल्प्स का 10 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ चुके हैं। उन्होंने 1:50.73 का समय निकालकर स्वर्ण जीता था और फेल्प्स से 0.78 सेकेंड तेजी का समय निकाला। फेल्प्स ने 2009 में रोम में 1:51.51 समय के साथ रिकॉर्ड बनाया था।

3. लिन शेन:- चीन की शेन 2018 यूथ ओलंपिक खेलों में महिलाओं की एक मीटर स्प्रिंगबोर्ड, 10 मीटर और मिश्रित टीम स्पर्धा में स्वर्ण पदक अपने नाम कर चुकी हैं। 17 वर्षीय शेन की पार्टनर यांग जियांग के साथ मिलकर ग्वांगजु में हुई 2019 फीना विश्व एक्वेटिक्स चैंपियनशिप में मिश्रित टीम स्पर्धा का खिताब हासिल कर चुकी हैं। 2015 में विश्व चैंपियनशिप की शुरूआत होने के बाद से यह पहला मौका है, जब चीन ने मिश्रित विश्व खिताब जीता है।

4. यारोसलावा माहुचिख :- यारोसलावा हमवतन और 2104 की चैंपियन यूलिया लेवचेंको के रास्ते पर चल पड़ी है। यारोसलावा ने 2018 यूथ ओलंपिक खेलों में उंची कूद स्पर्धा में स्वर्ण जीतने के अलावा इस साल कतर में हुई विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में रजत पदक अपने नाम कर चुकी है। 18 वर्षीय यारोसलावा 2.04 मीटर के साथ विश्व चैंपियनशिप में दूसरे स्थान पर रही थीं।

5. क्लीमेंट कोल्सनिकोव:- यूथ ओलंपिक खेलों में छह स्वर्ण पदक और एक रजत पदक जीतने वाली रूस के तैराक कोल्सनिकोव ने दिसंबर 2018 में विश्व तैराकी चैंपियनशिप में भी अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है।

18 वर्षीय कोल्सनिकोव ने 100 मीटर मेडले स्पर्धा में स्वर्ण अपने नाम किया था। उन्होंने इस साल फीना विश्व एक्वेटिक्स चैंपियनशिप में 50 मीटर बैकस्टोक कांस्य, चार गुणा 400 मीटर फ्रीस्टाइल में रजत और चार गुणा 100 मीटर मेडले में कांस्य पदक जीता था।

6. जॉर्ज पोपोव :- रूस के पोपोव यूथ ओलंपिक 2018 में ताइक्वांडो बाउट में स्वर्ण पदक जीत चुके हैं। उन्होंने पुरुषों के 55 किग्रा स्पर्धा के फाइनल में कोरिया के किम कांग मिन को 33-26 से हराया था। 18 वर्षीय पोपोव इस साल हुई विश्व ताइक्वांडो चैंपियनशिप में रजत पदक पर कब्जा जमा चुके हैं।

7.टॉनी वोडिसेक:- यूथ ओलंपिक में रजत हासिल करने वाले स्लोवानिया के वोडिसेक पेशेवर काइट रेसिंग सर्किट में अपना दबदबा बनाया है। 19 साल के वोडिसेक अपने तीन शुरुआती प्रतियोगिताओं काइटफोइल वल्र्ड सीरीज, ग्रिजेरिया (इटली), वीफांग (चीन) और पिंगटन(चीन) में टॉप पर रह चुके है।

वोडिसेक हालांकि, कंधे की चोट के कारण इटली में हुए सार्दीनिया फिनाले में खिताब जीतने से चूक गए।

8. जॉर्डन डियाज :- क्यूबा के तिहरी कूद एथलीट जॉर्डन यूथ ओलंपिक में वल्र्ड अंडर-18 और वल्र्ड अंडर-20 वर्ग में खिताब अपने नाम कर चुके हैं। अब 18 साल के हो चुके डियाज अपने पहले सीनियर प्रतियोगिता पैन अमेरिकन गेम्स में 17.38 मीटर की कूद के साथ रजत पदक हासिल कर चुके हैं।

9. हिरत मेशेशा :- इथियोपिया की मेशेशा ब्यूनस आयर्स यूथ ओलंपिक खेलों में महिलाओं की 800 मीटर दौड़ में कांस्य पदक हासिल कर चुकी हैं। 18 वर्षीय मेशेशा मोरक्कों में हुए अफ्रीकन खेलों में 2:03.16 के समय के साथ स्वर्ण पदक अपने नाम किया है। उन्होंने यूगांडा की ओलंपियन हलीमा नकाई को मात देकर यह खिताब अपने नाम किया। हलीमा ने हाल में दोहा में विश्व चैपियनशिप में स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया है।

10. वांग झिई :- चीन की बैडमिंटन खिलाड़ी झिई यूथ ओलंपिक में दूसरे स्थान पर रहकर रजत पदक हासिल करने के बाद से ही विश्व मंच पर लगातार शानदार प्रदर्शन करती आ रही हैं। जुलाई में कनाडा ओपन में उपविजेता रहने के बाद से झिई के खेल में काफी निखार आया है।

केर्लिफॉर्निया में हुए यूस ओपन में उन्होंने पूरे टूर्नामेंट में एक भी गेम में न गंवाते हुए तीसरी सीड कोरिया की किम जा इयून को 21-18, 21-19 से हराकर खिताब अपने नाम किया। अक्टूबर में उन्होंने इंडोनेशिया मास्टर्स के रूप में अपना दूसरा बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर खिताब जीता है।

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss