महाराष्ट्र : आरटीआई कार्यकर्ताओं ने सरकार के शपथ ग्रहण पर हुए खर्च पर उठाए सवाल
Wednesday, 12 February 2020 19:39

  • Print
  • Email

मुंबई: महाराष्ट्र में पिछले साल नवंबर में महा विकास अघाड़ी के शपथ ग्रहण समारोह के खर्च में भारी विसंगतियां पाई गई हैं। सूचना का अधिकार (आरटीआई) कार्यकर्ताओं ने बुधवार को मुंबई में यह आरोप लगाया। जहां साकी नाका निवासी एक आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली को 2.79 करोड़ रुपये का आंकड़ा दिया गया, वहीं सांयन निवासी एक अन्य कार्यकर्ता अजय बोस को 4.63 करोड़ रुपये का खर्च बताया गया।

गलगली की आरटीआई याचिका के जवाब में सूचना अधिकारी आर.जी. गायकवाड़ ने 20 जनवरी को दिए जवाब में बताया कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और उनके छह मंत्रियों के 28 नवंबर, 2019 को शिवाजी पार्क में हुए शपथ ग्रहण समारोह पर 2.79 करोड़ रुपये का खर्च आया था।

आश्चर्यजनक रूप से उसी अधिकारी ने 31 जनवरी को बोस को उसी कार्यक्रम के खर्च की जानकारी देते हुए 4.63 करोड़ रुपये का आंकड़ा दिया।

अब दोनों चकित हैं कि कौन-सा आंकड़ा सही है और एक ही सवाल के जवाब में एक ही अधिकारी के दो जवाबों में इतना बड़ा अंतर क्यों है।

गलगली ने कहा, "जब सरकारी विभाग ने आंकड़े उचित रूप से नहीं रखे हैं तो वे आरटीआई में गुमराह करने वाले आंकड़े क्यों पेश कर रहे हैं? संबद्ध अधिकारी को गलत जानकारी देने के लिए लापरवाह अधिकारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए।"

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और उनके मंत्रिमंडल के वानखेड़े स्टेडियम में 2014 में हुए शपथ ग्रहण समारोह का खर्च सिर्फ 98 लाख रुपये आया था।

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss