कांग्रेस ने मान ली हार, अब नामदार को बचाने के लिए हो रही व्यूहरचनाः मोदी
Wednesday, 15 May 2019 12:17

  • Print
  • Email

देवघर: झारखंड के संताल में भाजपा का विजय पताका लहराने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बाबा बैद्यनाथ की नगरी देवघर में बुधवार को विजय संकल्प रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस महागठबंधन पर जोरदार हमला बोला। कहा, पांचवें चरण के चुनाव के बाद ही कांग्रेस ने अपनी हार मान ली है। अब हार का बहाना ढूंढने के लिए कांग्रेस के अंदर बैठकों का दाैर जारी है। नामदार को बचाने के लिए व्यूहरचना की जा रही है ताकि हार का ठीकरा किसी और के सिर फोड़ा जा सके। कांग्रेस ने अपने दो बल्लेबाज-सैप पित्रोदा और मणिशंकर अय्यर को मैदान में उतार दिया है ताकि हार का ठीकरा नामदार के बजाय दोनों बल्लेबाजों पर फोड़ा जा सके।

देवघर के कुंडा में निर्माणाधीन इंटरनेशनल हवाई अड्डा पर अपने संबोधन की शुरूआत में ही भीड़ को देख मोदी ने कहा कि 23 को क्या होने वाला है, यह जनसमुद्र जीता-जागता उदाहरण है। भाजपा की विजय होने वाली है। इसके बाद सिदो-कान्हू, चांद-भैरव और तिलका मांझी को जोहार कर कांग्रेस पर हमला शुरू किया। कहा- सैम पित्रोदा नामदार (कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी) के गुरु हैं। कांग्रेस में नामदार के बगैर इशारे कोई कुछ बोलता नहीं है। उनके इशारे पर ही गुरु ने, जो हुआ सो हुआ वाला बयान दिया। 84 के सिख दंगा को जायज ठहराया। दूसरे हैं-जो गुजरात चुनाव के समय भी हमें गाली देकर हिट विकेट होकर मैदान से बाहर थे। वे फिर मैदान में आ गए हैं। मुझे गाली दे रहे हैं। 23 के बाद ऐसे ही बल्लेबाजों को कांग्रेस हार के लिए जिम्मेवार ठहराएगी।

लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण में 19 मई को झारखंड के संताल की तीन लोकसभा सीट-गोड्डा, दुमका और राजमहल में मतदान है। 2014 के चुनाव में भाजपा को सिर्फ एक गोड्डा लोकसभा सीट पर विजय मिली थी। अबकी तीनों सीटों पर झामुमो, कांग्रेस और झाविमो महागठबंधन बनाकर चुनाव लड़ रहा है। गोड्डा से भाजपा के निशिकांत दुबे, दुमका से सुनील सोरेन और साहिबगंज से हेमलाल मुर्मू चुनाव लड़ रहे हैं। प्रधानमंत्री ने तीनों भाजपा प्रत्याशियों को जनता से जिताने की अपील की।

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.