Advertisement

जम्मू एवं कश्मीर : विपक्ष ने सदन से बहिर्गमन किया

जम्मू: जम्मू एवं कश्मीर विधानसभा में विपक्षी पार्टी के सदस्यों ने गुरुवार को शेर-ए-कश्मीर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एसकेआईएमएस) के निदेशक ए.जी. अहंगार को बर्खास्त किए जाने के विरोध में सदन से बहिर्गमन किया। 

जैसे ही सदन की कार्यवाही शुरू हुई, नेशनल कांफ्रेंस तथा कांग्रेस समेत सभी विपक्षी पार्टियों के सदस्यों ने अहंगार को हटाए जाने की वजह बताए जाने की मांग की।

रिपब्लिक टीवी के स्टिंग ऑपरेशन के आधार पर संस्थान के तीन डॉक्टरों को बर्खास्त कर दिया गया और अहंगार को पद से हटा दिया गया। स्टिंग ऑपरेशन में दिखाया गया है कि तीनों डाक्टर सेवा नियमों को ताक पर रख कर निजी प्रैक्टिस कर रहे हैं।

नेशनल कांफ्रेंस के वरिष्ठ नेता अली मुहम्मद सागर ने सरकार से पूछा कि अहंगार व्यक्तिगत तौर पर निजी प्रैक्टिस में शामिल नहीं थे, फिर उन्हें संस्थान के निदेशक के पद से क्यों हटाया गया है। 

सदन की अध्यक्षता कर रहे उपाध्यक्ष नजीर गुरेजी ने सरकार को निर्देश दिया कि अगर अहंगार के खिलाफ कुछ भी गलत नहीं पाया गया तो उन्हें तत्काल पद पर बहाल किया जाना चाहिए।

सत्ता पक्ष की ओर से इस संबंध में कोई भी जवाब नहीं मिलने पर विपक्षी पार्टी के सदस्य सदन से बाहर चले गए।

लेकिन कुछ देर बाद जब वित्त मंत्री हसीब दराबु ने बजट पर पेश करना शुरू किया तब विपक्षी पार्टियों ने कार्यवाही में शामिल होने का निर्णय लिया।

--आईएएनएस

POPULAR ON IBN7.IN