मिलेनियम सिटी मैराथन रविवार को, चमक बिखेरना चाहते हैं जीतेंद्र और सेतान
Friday, 29 November 2019 17:12

  • Print
  • Email

गुरुग्राम: नई दिल्ली के नांगलोई के 23 साल के शारीरिक शिक्षा छात्र जीतेंद्र यादव रविवार को यहां सिकंदरपुर और गोल्फ कोर्स अंडरपास रूट पर आयोजित होने वाली पांचवीं अपोलो टायर्स मिलेनियम सिटी मैराथन में जीत की हैट्रिक लगाना चाहेंगे जबकि महिला वर्ग में लद्दाख की धाविका सेतान डोल्कर बाकी सभी महिलाओं के लिए चुनौती साबित हो सकती हैं। इस मैराथन में करीब 2500 धावक हिस्सा लेंगे। यह संख्या बीते संस्करण से 26 फीसदी अधिक है। ये धावक मैराथन, हाफ मैराथन और 10के स्पीड चैलेंज में हिस्सा लेंगे जबकि हजारों लोग पांच किलोमीटर की जॉय ऑफ रनिंग में शिरकत करेंगे। सभी रेस को साइबर हब से फ्लैग ऑफ किया जाएगा। मैराथन और हाफ मैराथन कटेगरी में धावक सेक्टर 54 तक जाएंगे और फिर सेक्टर 42-43 के रास्ते होते हुए यू-टर्न लेंगे।

गुरुग्राम मे सालों से इस इवेंट का आयोजन कर रही टाबोनो स्पोर्ट्स एंव इवेंट्स प्राइवेट लिमिटेड के संस्थापक और रेस डाइरेक्टर अभिषेक मिश्रा ने कहा, "हमें खुशी है कि यह रूट एसोसिएशन ऑफ इंटरनेशनल मैराथंस एंड डिस्टेंस रेसेज (एआईएमएस) द्वारा प्रमाणित है। और साथ ही खास बात यह है कि यह इवेंट भारतीय एथलेटिक्स महासंघ द्वारा मान्यता प्राप्त चुनिंदा इवेंट्स में से एक है। हम काफी तेजी से विकास कर रहे हैं और समय के साथ परिवर्तन भी कर रहे हैं।"

मिश्रा ने कहा कि इस मैराथन की सफलता का एक प्रतीक यह भी है कि इसमें महिला धावकों की संख्या लगातार बढ़ रही है। बकौल मिश्रा, "दो साल पहले मैराथन और हाफ मैराथन कटेगरी में सिर्फ पांच-पांच रनर्स दौड़ी थीं। बीते साल यह संख्या 11 और 20 पहुंच गई थी। इस बार 25 महिलाएं मैराथन और करीब 120 महिलाएं हाफ मैराथन कटेगरी में दौड़ रही हैं।"

मिश्रा ने आगे कहा, "टाबोनो स्पोर्ट्स में हमने हमेशा एथलीटों पर जोर दिया है। इसी लिए हमने टाइम्ड रनर्स और जॉय ऑफ रनिंग इवेंट (5 के) में हिस्सा लेने वाले धावकों के लिए अलग-अलग फिनिश लाइन रखा है। धावक हाइड्रेटेड रहें, इसके लिए रूट पर कई एड स्टेशन बनाए जाएंगे।"

मिश्रा मानते हैं कि यह इवेंट काफी प्रतिस्पर्धी है। वह कहते हैं, "हमें इस साल कई उच्च श्रेणी की इंट्रीज मिली हैं, जिससे कि इस इवेंट की गुणवत्ता बनी रहेगी। जीतेंद्र यादव, सेतान डोल्कर, रोमिला पुंडीर, निकिता सेठ, कल्पना देका साहा, सुषमा शर्मा, हर्षिता कौल, अंजू चौधरी, अनीता यादव और शीतल राव जैसे कई जाने-पहचाने नाम इस साल हमारे साथ हैं।"

मिश्रा ने कहा कि कुछ धावक ऐसे हैं, जो लगातार पांचवें साल इस इवेंट में हिस्सा ले रहे हैं। मिश्रा ने कहा, "हमें खुशी है कि बाल रोक विशेषज्ञ डॉक्टर अंजली नायर, डाटा सिक्यूरिटी काउंसिल ऑफ इंडिया के सीईओ रमा वेदाश्री, फिटनेस एडवोकेट लतिका गोयल और सीपीडब्ल्यूडी के रिटायर्ड इंजीनियर सतीश सक्सेना, रेवेन्यू अधिकारी पंकज अरोड़ा और सीएफओ आदित्य मिश्रा इस बार भी इवेंट में हिस्सा ले रहे हैं।"

जीतेंद्र यादव ने पहली बार इस इवेंट में 2016 में हिस्सा लिया था और 2.44.04 घंटे समय के साथ तीसरे स्थान पर रहे थे। इसके बाद जीतेंद्र ने इसके बाद के दो एडिशंस में जीत हासिल की थी। जीतेंद्र ने कहा, "ऊंचाई पर दौड़ते हुए शरीर पर अधिक दबाव पड़ता है और इसी कारण मैं वहां सावधान रहूंगा।"

रनिंग इवेंट्स में हिस्सा लेकर जीते गुए पुरस्कार राशि से अपनी पढ़ाई जारी रखने वाले जीतेंद्र ने कहा है कि भारत के टॉप मैराथन धावक टी. गोपी और महिला वर्ग में राष्ट्रीय रिकार्डधारी ओपी जैयशा उनके लिए प्रेरणास्रोत रहे हैं। अपनी बेनेफैक्टर कनिका से मिलने वाले सहयोग को याद करते हुए जीतेद्र ने कहा, "मैं प्रतिस्पर्धी रेसों मे जीत हासिल करना चाहता हूं। करीबी मुकाबले जीतने से अधिक आत्मसंतुष्टि और किसी बात में नहीं।"

सेरान डोल्कर ने इस इवेंट में 2016 में पहली बार हिस्सा लिया था और दूसरे स्थान पर रही थीं। वह इस इवेंट का इवेंट रिकार्ड (3.22.18 घंटा) स्थापित करने वाली अपनी दोस्त जिग्मेत डोल्मा से चार सेकेंड पीछे रह गई थीँ। सेतान इस साल अपनी साथी के साथ नहीं दौड़ पाएंगी क्योंकि जिग्मेत इस साल नेपाल में आयोजित होने वाले दक्षिण एशियाई खेलों में हिस्सा ले रही हैं।

लुधियाना की अमनदीप कौर एक अन्य ऐसी धाविका हैं, जो एमसीएम खिताब की हैट्रिक पूरी करना चाहेंगी। कौर ने 10के स्पीड चैलेंड 2017 में जीता था। उनका समय 40 मिनट 10 सेकेंड रहा था और फिर अगले साल 43.43 मिनट समय के साथ कौर ने एक बार फिर यह खिताब जीता। अंजू चौधरी ने 2017 में 10के कटेगरी का खिताब जीता था और फिर पीते साल भी पोडियम फिनिश किया था। वह भी इस साल अपनी दावेदारी पेश करेंगी।

सबसे तेज एमेच्योर धाविकाओं में से एक शैलजा सिंह श्रीधर ने हाल ही में न्यूयार्क मैराथन में 3.20.00 घंटे का समय निकाला था। वह भी इस साल एमसीएम में हिस्सा ले रही हैं। वह इवेंट के ब्रांड एम्बेसेडर मिलिंद सोमन के साथ हिस्सा लेंगी। सोमन ने कहा है कि वह हाफ मैराथन को फ्लैग ऑफ करने के बाद इसमें हिस्सा लेना चाहेंगे। उनकी मौजूदगी इस इवेंट में अतिरिक्त एनर्जी का संचार करेगी।

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.