Print this page

गुरुग्राम में युवक ने माता-पिता को मारा चाकू, पिता की मौत
Wednesday, 25 September 2019 18:03

गुरुग्राम: गुरुग्राम के पुराने शहर में एक युवक ने अपने माता-पिता को इसलिए चाकू मार दिया, क्योंकि उसे लगता था कि वे उसे कम महत्व देते हैं। पिता की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि मां दिल्ली स्थित एम्स ट्रॉमा में जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रही है। आरोपी के छोटे भाई मयंक मेहता ने मामले की शिकायत दर्ज कराई है और वह घटना का चश्मदीद गवाह भी है।

आरोपी ऋषभ मेहता ने (32) मंगलवार की शाम को लक्ष्मी गार्डन स्थित अपने घर में पिता सुशील मेहता और मां चंदर मेहता से लड़ाई की थी। मयंक का आरोप है कि ऋषभ अपने माता-पिता के साथ आए दिन लड़ाई करता था। हालांकि जब उनकी लड़ाई हो रही थी, तब वह कुछ फल खरीदने के लिए पास के बाजार गया हुआ था।

गुरुग्राम पुलिस के पीआरओ सुभाष बोकन ने कहा, "जब मयंक बाजार में था, तो उसे उसके चाचा का फोन आया, जिन्होंने उसे बताया कि ऋषभ उसकी मां और पिता पर चाकू से हमला कर रहा है। जब मयंक घर पहुंचा, तो उसने देखा कि ऋषभ तब तक अपने पिता सुशील मेहता पर चाकू से वार कर ही रहा था। जब मयंक ने उसे रोकने की कोशिश की तो आरोपी ने उसे भी चाकू से घायल कर दिया।"

मयंक अपने माता-पिता को पास के 10 सिविल अस्पताल ले गया, जहां डॉक्टरों ने सुशील मेहता को मृत घोषित कर दिया। डॉक्टरों ने चंदर मेहता को एम्स ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया। उनके पेट, छाती और गर्दन पर कटने के कई घाव मिले।

बोकन ने कहा, "आरोपी घटना के बाद मौके से फरार हो गया। हालांकि मंगलवार को वह उसी इलाके से पकड़ लिया गया। उस पर हत्या और हत्या के प्रयास के तहत मामला दर्ज किया गया है।"

--आईएएनएस