Advertisement

अध्यक्ष ने पारसेकर को दुष्कर्म का ग्राफिक विवरण पढ़ने से रोका

पणजी:  गोवा विधानसभा अध्यक्ष राजेंद्र आरलेकर ने गुरुवार को मुख्यमंत्री लक्ष्मीकांत पारसेकर को एक विधवा नौकरानी के साथ सामूहिक दुष्कर्म की कथित घटना का ग्राफिक विवरण सदन में पढ़ने से रोक दिया। विधवा नौकरानी के साथ 29 जुलाई को पणजी के करीब ओल्ड गोवा के एक फ्लैट में कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म किया गया था, जिसमें एक पुलिस कांस्टेबल सहित कुल आठ लोग शामिल बताए जा रहे हैं।

पारसेकर ने जब अंग्रेजी में कर्नाटक के बेलगाम जिले की मूल निवासी 30 वर्षीया नौकरानी के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म के विवरण को पढ़ना शुरू किया तो उस वक्त निर्दलीय विधायक विजय सरदेसाई ने आपत्ति जताई।

सरदेसाई ने कहा, "मुझे लगता है कि ये घटना काफी विचित्र है। गोवा पुलिस ने अभी तक पांच आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया है और उन्हें पकड़ने की बजाए आप यहां इसे विस्तार से इसे पढ़ रहे हैं।"

पारसेकर द्वारा दिए जा रहे विवरण में हस्तक्षेप करते हुए अध्यक्ष राजेंद्र ने कहा , "अगर आपने कोई कदम उठाया है तो वह हमें बताइए, कृपया विवरण में न जाएं।"

पारसेकर ने गोवा विधानसभा को बताया कि पीड़ित ने कहा है कि उसके साथ आठ लोगों ने दुष्कर्म किया था लेकिन पुलिस जांच में खुलासा हुआ है कि उसके साथ चार लोगों ने दो-दो बार दुष्कर्म किया था।

POPULAR ON IBN7.IN