कोर्ट में बोले लालू- हुजूर, होली तो जेल में मनेगी ही

चारा घोटाला से जुड़े दुमका कोषागार अवैध निकासी मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव और अन्य आरोपी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये सीबीआई की विशेष अदालत में पेश हुए। स्थानीय मीडिया के अनुसार लालू ने इस दौरान अपना पक्ष खुद रखा। लालू ने इस बार होली जेल में ही मनाने को लेकर अफसोस जताया और विशेष न्यायाधीश शिवपाल सिंह से निवेदन किया कि वह फैसला थोड़ा जल्दी सुनाएं। लालू ने जज से कहा- ”हुजूर कब तक जजमेंट दीजिएगा, जल्दी जजमेंट कर दिया जाए। इस बार थोड़ा बढ़िया से लिखिएगा हूजूर। अब तो होली जेल में ही बीतेगा।” लालू यादव ने सुनवाई खत्म होने पर एक बार फिर होली की बात की। उन्होंने जज को होली की शुभकामनाएं दीं और साथ ही दुआ की कि होलिका के साथ उनके दुश्मनों का भी नाश हो जाए। स्थानीय मीडिया और जेल के सूत्रों के अनुसार जेल प्रशासन ने लालू और अन्य कैदियों के लिए होली खेलने का खासा इंतजाम किया है।

सूत्रों के मुताबिक करीब एक क्विंटल रंग-गुलाल मंगवाया गया है। फाग गाने का इंतजान किया गया है। जेल के अंदर होली धूमधाम से मनाने के लिए लालू को अपर डिवीजन से निकालकर सामान्य कैदियों के साथ लाया जा सकता है, जहां वे होली का जमकर लुत्फ ले सकेंगे। लालू जेल के अंदर फाग गाएंगे तो बाहर उनकी पार्टी के कई नेताओं और कार्यकर्ताओं ने कहा है कि वे लालू के जेल से बाहर आने के बाद ही होली मनाएंगे।

रिपोर्ट्स के मुताबिक लालू ने सुनवाई के दौरान तत्कालीन एजी टीएम चतुर्वेदी को भी आरोपी बनाने के लिए अदालत से कहा। अदालत ने लालू से पूछा कि टीएन चतुर्वेदी जीविन हैं या नहीं, इस पर लालू ने कहा कि उन्हें फंसाने के ईनाम में बीजेपी ने चतुर्वेदी को राज्यसभा भेजा है। वहीं सुनवाई के दौरान मामले के आरोपियों ने सीबीआई पर गलत तथ्य पेश करने के आरोप लगाए। इस केस में अगली सुनवाई 5 मार्च को होगी। बता दें कि लालू प्रसाद यादव राजनीति के गलियारों समेत अदालत में भी अपने कॉमिक अंदाज में बातें करने के लिए जाने जाते हैं।

POPULAR ON IBN7.IN