मीसा को भी 'सेवा' के बदले मिली कीमती जमीन : सुशील
Tuesday, 10 October 2017 19:37

  • Print
  • Email

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता और बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने मंगलवार को एक बार फिर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद पर निशाना साधते हुए कहा कि उनके पास रॉबर्ट वाड्रा से भी अधिक संपत्ति है। मोदी ने एक नया खुलासा करते हुए कहा कि लालू की पुत्री और सांसद मीसा भारती को भी 'सेवा' के बदले दान में जमीन मिली है। पटना में एक संवाददाता सम्मेलन में सुशील ने कहा कि लालू और उनका परिवार संपत्ति बनाने की दौड़ में रॉबर्ट वाड्रा को भी पीछे छोड़ दिया है। लालू और उनके परिवार पर बेनामी संपत्ति को लेकर लगातार नया खुलासा कर रहे मोदी ने कहा कि दान और वसीयत की कड़ी में रघुनाथ झा, कांति सिंह, हृदयानंद चौधरी, ललन चौधरी, मोहम्मद शमीम, सोफिया तबस्सुम, राकेश रंजन, सीमा वर्मा, प्रभुनाथ यादव के बाद अब सुभाष चंद्र चौधरी का भी नाम जुड़ गया है। 

मोदी ने दस्तावेजों का हवाला देते हुए कहा कि वर्ष 1993 में जब बिहार के मुख्यमंत्री लालू प्रसाद थे, तब आठ नवंबर को गोपालगंज के रहने वाले सुभाष चंद्र चौधरी के नाम से पटना के श्रीकृष्णपुरी थाना क्षेत्र के मैनपुरा में जमीन खरीदी गई थी।

इस जमीन के लिए तब नकद भुगतान किया गया। मोदी ने आरोप लगाया कि इस भुगतान के लिए लालू ने ही पैसे दिए। 

इसके बाद चौधरी की 11 लाख 32 हजार रुपये (2003 का मूल्य) में खरीदी गई इस जमीन की कीमत आज करोड़ों रुपये होगी। इस जमीन को चौधरी ने लालू की बेटी मीसा भारती को 11 नवंबर, 2003 को दान कर दिया।

मोदी ने कहा कि अन्य लोगों की तरह चौधरी ने भी 'गिफ्ट डीड' में लिखा है, "मीसा भारती की सेवा से प्रभावित होकर यह जमीन दान कर रहा हूं।" 

मोदी ने कहा कि वर्ष 1993 में खरीदी गई इस जमीन का 10 वर्षो तक दाखिल खारिज नहीं हुआ, जबकि जमीन 'गिफ्ट' (दान) करने से कुछ माह पूर्व इस जमीन का दाखिल खारिज भी चौधरी के नाम से कराया गया।

उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि आखिर गोपलगंज के रहने वाले चौधरी को 1993 में जमीन खरीदने के लिए किसने पैसे दिए और आखिर किस सेवा के एवज में एक मुख्यमंत्री की बेटी को कीमती जमीन दान दी गई।

उल्लेखनीय है कि लालू के परिवार की बेनामी संपत्ति को लेकर आयकर विभाग जांच कर रहा है। इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और उनकी बेटी की कई संपत्तियों को भी विभाग द्वारा जब्त किया गया है। 

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.