आंध्र प्रदेश के CM के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू समेत 16 लोगों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी हुआ है। इन सभी को 21 सितंबर तक कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया गया है। आंध्र प्रदेश के सीएम और बाकी 15 लोगों के खिलाफ यह कार्रवाई महाराष्ट्र की एक स्थानीय अदालत ने गोदावरी नदी की बाबली परियोजना पर प्रदर्शन से जुड़े 2010 के एक मामले में की है। वहीं, तेगलू देसम पार्टी (टीडीपी) ने सीएम के खिलाफ जारी हुए वारंट को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की साजिश करार दिया है।

नांदेड़ जिले में धर्माबाद के न्यायिक प्रथम श्रेणी मजिस्ट्रेट एन आर गजभिये ने पुलिस को सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने और 21 सितंबर तक उन्हें कोर्ट में पेश करने का निर्देश दिया। अविभाजित आंध्र प्रदेश में तब विपक्ष में रहे नायडू और बाकी लोगों को महाराष्ट्र में बाबली परियोजना के पास विरोध करने पर गिरफ्तार किया गया था। बाद में उन्हें पुणे की एक जेल भेजा गया था।

वे इस आधार पर परियोजना का विरोध कर रहे थे कि इससे निचले हिस्से में लोग प्रभावित होंगे। हालांकि, बाद में उन्हें रिहा भी कर दिया गया था। पर उन्होंने जमानत नहीं मांगी थी। उन सभी पर जन सेवक को काम करने में बाधा पहुंचाने के लिए हमला या आपराधिक बल प्रयोग करने, हथियार या किसी अन्य तरीके से जान-बूझकर जख्म पहुंचाना, अन्य की जिंदगी खतरे में डालने समेत विभिन्न धाराएं लगाई गई थीं।

--आईएएनएस