राजस्थान सरकार के स्वायत्त शासन विभाग ने जरुरतमंदों में बांटे 32 लाख फूड पैकेट्स
Friday, 03 April 2020 20:05

  • Print
  • Email

जयपुर: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न स्थिति से लड़ाई लड़ने के लिए राजस्थान सरकार के स्वायत्त शासन विभाग द्वारा आममजनों को राहत पहुंचाने के लिए अनेक प्रभावशाली कदम उठाये जा रहे हैं। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए संक्रमित मामलें आने से पूर्व ही प्रदेश की समस्त नगरीय निकायों को 13 मार्च, 2020 को सफाई व्यवस्था, सोडियम हाईपोक्लोराईड के छिड़काव, चिकित्सा विभाग के अतिरिक्त अन्य आईसोलेशन स्थलों के चिन्हीकरण तथा बचाव के अन्य उपायों के बारे में प्रचार-प्रसार करना शुरू कर दिया गया था ।

लॉकडाउन की स्थिति में शहरी क्षेत्रों में गरीब लोगों के लिए निराश्रित, जरूरतमंदों को 'मुख्यमंत्री भोजन योजना' के तहत 2 अप्रैल तक प्रदेश में 32,37,430 फूड पैकेट्स (भोजन) का वितरण किया जा चुका है।

इस कार्य में कई एनजीओ, ट्रस्टों और संस्थाओं के सहयोग से शहरों में फूड पैकेट्स (भोजन) का वितरण किया जा रहा है। प्रदेश की समस्त नगरीय निकायों में सफाई व्यवस्था तथा डोर-टू-डोर कचरा संग्रहण किया जा रहा है ।

गौरतलब है कि स्वयं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत लॉकडाउन के दौरान आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की समीक्षा कर रहे हैं।

बता दें कि राज्य में स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल की निगरानी में करीब 5 लाख से ज्यादा फूड पैकेट्स (भोजन) का वितरण किया जा रहा है।

विभाग द्वारा प्रदेश के नगरीय निकाय क्षेत्रों में सोडियम हाईपोक्लोराईड का छिड़काव फायर ब्रिगेड वाहनों एवं अन्य साधनों के माध्यम से गली मौहल्ले एवं सार्वजनिक स्थानों, कचरा डिपो पर निरन्तर करवाया जा रहा है।

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अब तक 9,79,304.1 लीटर सोडियम हाईपोक्लोराईड का छिड़काव किया गया है।

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss