पंजाब में 6 साल की बच्ची से दुष्कर्म के आरोपी पर फूटा लोगों का गुस्सा
Friday, 23 October 2020 21:18

  • Print
  • Email

चंडीगढ़: पंजाब के टांडा शहर में एक प्रवासी मजदूर की छह साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म करने और उसे जलाने के आरोप में आरोपी और उसके दादा पर शुक्रवार को गुस्साई भीड़ ने हमला कर दिया। दोनों पुलिस की हिरासत में थे। गुस्साई भीड़ ने आरोपी गुरप्रीत सिंह और उसके दादा सुरजीत सिंह को उन्हें सौंपने की मांग की, ताकि वे उन्हें अपने हाथों से सजा दे सकें और पीड़िता को न्याय दिला सकें।

आरोपियों ने कथित तौर पर बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के बाद उसको मार डाला और फिर उसके शरीर को जला दिया। आरोपी के घर पर बच्ची का आधा जला हुआ शव मिला। यह जानकारी पुलिस ने दी। घटना गुरुवार की है।

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने अपराध का स्वत: संज्ञान लिया और तीन दिनों के भीतर राज्य से रिपोर्ट मांगी है।

पुलिस ने बताया कि बच्ची का आधा जला हुआ शव गुरुवार शाम को होशियारपुर जिले के टांडा में जलालपुर गांव में आरोपियों के निवास पर मिला।

आरोपियों को भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) और यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण (पोक्सो) अधिनियम के तहत हत्या और दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस आरोपी को शुक्रवार को उनकी मेडिकल जांच के लिए टांडा के एक अस्पताल में ले गई थी, तभी भीड़ ने उन पर हमला किया। गुस्सई भीड़ ने अस्पताल की खिड़की के शीशे तोड़ दिए, ऐसे में पुलिस उन्हें मुश्किल से बचा पाई।

पहली सूचना रिपोर्ट के अनुसार, आरोपी गुरप्रीत बच्ची को अपने घर ले गया, जहां उसने कथित तौर पर उसके साथ दुष्कर्म किया।

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि उन्होंने पुलिस महानिदेशक को उचित जांच सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है और चालान तेजी से पेश करने के लिए कहा है।

मीडिया रिपोटरें का संज्ञान लेते हुए राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को एक पत्र में अपराध का विवरण, एफआईआर की एक प्रति, आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई और पोस्टमार्टम विवरण सहित तीन दिनों के भीतर जवाब मांगा है।

--आईएएनएस

एमएनएस/जेएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.