पंजाब का अधिकारी एचएम मेडल के लिए चयनित
Thursday, 13 August 2020 16:44

  • Print
  • Email

चंडीगढ़/शिमला: पंजाब और हिमाचल प्रदेश के एक-एक और हरियाणा के तीन अधिकारियों को जांच में उत्कृष्टता के लिए गृह मंत्री (एचएम) मेडल के लिए चयनित किया गया है। पंजाब के पुलिस उपाधीक्षक बिक्रमजीत सिंह बरार को 2015 से 2017 तक लक्षित हत्याओं की निशानदेही सहित कई सनसनीखेज मामलों के भंडाफोड़ का श्रेयदिया जाता है, जबकि हरियाणा के पुलिस अधीक्षक शशांक सावन ने एक छह वर्षीय बच्ची के यौन उत्पीड़न मामले में तेजी से जांच करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

हिमाचल पुलिस के साथ पुलिस अधीक्षक संदीप धवल को 5,000 करोड़ रुपये से अधिक के गबन से संबंधित एक मामले की जांच के लिए पुरस्कार मिला। इस गबन को इंडियन टेक्नोमैक कंपनी लिमिटेड के प्रबंध निदेशक द्वारा अंजाम दिया गया, माना जाता है कि वह दुबई में छिपा हुआ है।

पंजाब के पुलिस महानिदेशक दिनकर गुप्ता ने मीडिया को बताया कि उनके अधिकारी बरार ने अमृतसर के पूर्व सरपंच गुरदीप सिंह की सनसनीखेज हत्या की गुत्थी सुलझाने के अलावा गैंगस्टर सुखप्रीत सिंह उर्फ बुड्ढा की गिरफ्तारी में अहम भूमिका निभाई है।

अपराध की जांच के उच्च पेशेवर मानकों को बढ़ावा देने के लिए गृह मंत्री मेडल 2018 में स्थापित किया गया था। 2020 के लिए कुल 121 पुलिसकर्मियों को सम्मानित किया गया है।

हिमाचल के पुलिस अधिकारी धवल ने 2018 में हाई-प्रोफाइल गबन मामले की कमान अपने हाथों में ली। कंपनी - इंडियन टेक्नोमैक कंपनी लिमिटेड ने मार्च 2014 में सिरमौर जिले के पाओंटा साहिब में विनिर्माण कार्यों को बंद कर दिया और इसके अधिकारी गायब हो गए।

धवल ने आईएएनएस को बताया, "कंपनी के प्रबंध निदेशक राकेश कुमार शर्मा के बारे में कहा जाता है कि वह दुबई में है। शर्मा की गिरफ्तारी के लिए इंटरपोल से मदद मांगी गई है, जो चेक बाउंस होने के मामले में दुबई में 2014 में दो साल के लिए जेल गया था।"

हरियाणा के अधिकारी सावन, जो वर्तमान में कैथल में पुलिस अधीक्षक के रूप में तैनात हैं, ने 2018 में एक प्रवासी श्रमिक की छह वर्षीय बेटी के दुष्कर्म के मामले में तेजी से जांच की।

उन्होंने अपनी जांच पूरी की और अपराध के छह दिनों के भीतर आरोप पत्र दायर किया। इसके चलते झज्जर जिले के बहादुरगढ़ में दोषी को उम्रकैद हुई।

उनके अलावा, हरियाणा पुलिस के दो उप-निरीक्षकों अनिल कुमार और रीता रानी को भी इस मेडल से सम्मानित किया जाएगा।

--आईएएनएस

वीएवी/जेएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.