Delhi Riots Case: UAPA के तहत गिरफ्तार किए गए 15 आरोपितों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल
Wednesday, 16 September 2020 18:18

  • Print
  • Email

नई दिल्ली: दिल्ली दंगा मामले में पुलिस ने बुधवार को कड़कड़डूमा कोर्ट में आरोप पत्र (चार्जशीट) दाखिल किया है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम, आईपीसी और आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत दंगों के 15 आरोपियों के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया। कड़कड़डूमा कोर्ट में दायर चार्जशीट 10,000 पन्नों से अधिक की है।

विस्तृत साजिश रचने के मामले में स्पेशल सेल ने (Unlawful Activities Prevention Act) यूएपीए  के तहत कुल 20 आरोपितों को गिरफ्तार किया है लेकिन अभी 15 के खिलाफ ही आरोप पत्र दायर किए गए हैं। यह आरोप पत्र पुलिस को 17 सितंबर से पहले कोर्ट में दाखिल करना था। इसको लेकर स्पेशल सेल दो बार हाई कोर्ट से समय मांग चुकी थी। 

चार्जशीट में जिन 15 लोगों को आरोपित बनाया गया है उनके नाम अभी तक सामने नहीं आये हैं। लेकिन समाचार एजेंसी एएनआइ ने बताया कि इनमें उमर खालिद और देशद्रोह का आरोपित शरजील इमाम के नाम शामिल नहीं हैं। इन दोनों को दंगा भड़काने के आरोप में गिरफ्तार किया जा चुका है। 

 UAPA के तहत ये हैं 20 आरोपित

  1. दानिश (Danish)
  2. मो. परवेज अहमद (Mohd. Parvez Ahmad)
  3. मो. इलयास (Mohd Ilyas)
  4. खालिद (Khalid)
  5. इशरत जहां (Isharat Jahan)
  6. मीरन हैदर (Meeran Haider)
  7. ताहिर हुसैन (Tahir Hussain)
  8. गुलीशा (Gullisha)
  9. सफूरा जरगर (Safoora Zargar)
  10. शफा उर रहमान (Shafa Ur Rehman)
  11. आसिफ इकबाल तनहा (Asif Iqbal Tanha)
  12. शादाब अहमद (Shadab Ahmed)
  13. नताशा नरवाल (Natasha Narwal)
  14. देवांगना कलीता (Devangna Kalita)
  15. तसलीम अहमद(Tasleem Ahmed)
  16. सलीम मलिक (Saleem Malik)
  17. मो. सलीम खान (Mohd. Saleem Khan)
  18. अतहर खान (Athar Khan)
  19. उमर खालिद (Umar Khalid)
  20. शरजील इमाम (Sharjeel Imam)

     

बता दें कि दंगा में 50 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी जबकि कई घायल हुए थे। इस मामले में कई आरोपितों को गिरफ्तार किया जा चुका है। पुलिस का कहना है कि 22 व 23 फरवरी को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दिल्ली में आने के बाद उत्तर-पूर्वी जिले में दंगाइयों ने जानबूझकर पुलिसकर्मियों पर पथराव किया ताकि विरोध में दंगा भड़क सके। 

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुए दंगे कुल 751 एफआइआर दर्ज की गई है। पुलिस ने अल्पसंख्यक समुदाय की शिकायतों पर 410 से अधिक एफआइआर दर्ज की, जबकि दूसरे समुदाय के द्वारा 190 से अधिक एफआइआर दर्ज की गई है। अन्य मुकदमे दैनिक डायरी प्रविष्टियों के आधार पर पंजीकृत किए गए थे। इसकी जानकारी दिल्ली के पुलिस कमिश्ननर एनएन श्रीवास्तव ने मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त जूलियो रिबेरो को लिखे पत्र में दी है। उन्होंने बताया कि बिना किसी भेदभाव के 1571 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया। कई मामलों में चार्जशीट दायर की गई है, जबकि कई अन्य में जांच अभी भी जारी है।

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss