दिल्ली में 24 घंटे में 660 नए कोरोना पॉजिटिव मामले
Friday, 22 May 2020 19:25

  • Print
  • Email

नई दिल्ली: दिल्ली में बीते 24 घंटे के दौरान 660 नए कोरोना पॉजिटिव रोगियों का पता लगा है। अभी तक दिल्ली में एक दिन में सामने आया कोरोना रोगियों का यह सबसे बड़ा आंकड़ा है। इसी के साथ यहां कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या अब 12 हजार के पार पहुंच चुकी है। दिल्ली में कोरोना से मरने वालों की संख्या भी बढ़कर 208 हो गई है। शुक्रवार को दिल्ली में कोरोना पॉजिटिव रोगियों की संख्या बढ़कर 12,319 हो गई। बीते 24 घंटे के दौरान दिल्ली में कोरोना वायरस से 14 लोगों की मौत हुई है। अभी तक दिल्ली में कुल 208 लोग कोरोना वायरस के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं।

अभी तक कोरोना वायरस की जांच के लिए कुल 1,60,255 लोगों का टेस्ट किया गया है। इनमें से 12,319 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इन कोरोना पॉजिटिव रोगियों में से 5,897 रोगी अभी तक स्वस्थ हो चुके हैं। दिल्ली में फिलहाल 6,214 सक्रिय कोरोना रोगी हैं।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा, "दिल्ली में केस के दोगुना होने की दर करीब 11 दिन के आसपास है। अगर आंकड़ा देखा जाए तो लगभग 4 से 4.5 प्रतिशत ग्रोथ दर है, परन्तु ग्रोथ दर 4.5 प्रतिशत के हिसाब से तो केस के दोगुना होने की दर 18 दिन हो जाता है। लेकिन इसमें हम देखते हैं कि जितने भी केस आज हैं, इससे आधे कितने दिन पहले थे। इससे आधे केस 11 दिन पहले थे। इसलिए फिलहाल दिल्ली में केस दोगुना होने की दर करीब 11 दिन है।"

दिल्ली में कोरोना के 169 रोगी आईसीयू में हैं, जबकि उसमें से 27 लोग वेंटिलेटर पर हैं। गौरतलब है कि दिल्ली सरकार उन सभी इलाकों को हॉटस्पॉट मानकर सील किया है जहां कोरोना के 3 से अधिक मामले एक साथ पाए गए हैं।

दिल्ली में अब कुल 79 कोरोना कंटेनमेंट जोन है। इन इलाकों को दिल्ली सरकार ने दिल्ली पुलिस की मदद से पूरी तरह सील कर दिया है। किसी भी कोरोना कंटेनमेंट जोन या कोरोना हॉटस्पॉट में बाहर का कोई व्यक्ति प्रवेश नहीं कर सकता। इसी तरह इन कंटेनमेंट जोन में रह रहे लोग भी इस इलाके से बाहर नहीं आ सकते। ऐसा इसलिए किया गया है ताकि कोरोना का संक्रमण इन क्षेत्रों से निकलकर अन्य इलाकों में न फैल सके।

केस बढ़ने के बावजूद कंटेनमेंट जोन की संख्या नहीं बढ़ने के सवाल पर स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा, "ऐसे काफी मामले आ रहे हैं जो हॉस्पिटल व बीएसएफ के हैं। पुलिस के भी बहुत सारे केस आ रहे हैं। इसके अलावा स्वास्थ्य कर्मचारियों के काफी केस आए हैं और अस्पतालों में भर्ती मरीजों के भी काफी केस आए हैं। अब केस का जो भी नया इलाका आएगा, उसे सीधे कंटेन्मेंट जोन घोषित कर दिया जाएगा।"

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss