दिल्ली : पश्चिमी जिला पुलिस कंट्रोल रूम में कोरोना घुसने से हड़कंप, एक शिफ्ट बंद
Friday, 22 May 2020 08:15

  • Print
  • Email

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस में अब तक 200 से ज्यादा कोरोना संक्रमित अफसर और जवान मिल चुके हैं। कोरोना संक्रमित सिपाही अमित राणा की मौत से अभी दिल्ली पुलिस उबरी भी नहीं कि, अब कोरोना ने उसके कंट्रोल रुम में भी दस्तक दे दी है। यही वजह है कि जैसे ही जिला पुलिस कंट्रोल रूम में कोरोना घुसा, दिल्ली पुलिस ने इस कंट्रोल रूम की एक शिफ्ट को ही हाल-फिलहाल बंद कर दिया है। ताकि बाकी अन्य दो शिफ्टों में ड्यूटी दे रहे पुलिसकर्मियों को कोरोना की पकड़ से बचाया जा सके।

दिल्ली पुलिस मुख्यालय के उच्च पदस्थ सूत्रों के मुताबिक, फिलहाल दिल्ली पुलिस संचार शाखा (कम्यूनिकेशन ब्रांच) ने अपने जिस जिला पुलिस कंट्रोल रूम की एक शिफ्ट बंद की है, वो पश्चिमी जिला है। पश्चिमी जिले का पुलिस कंट्रोल रूम राजौरी गार्डन स्थित थाना परिसर में है। यहीं जिला डीसीपी का दफ्तर भी मौजूद है। जिला पुलिस कंट्रोल रूम में कोरोना के कदम पड़ने से अब राजौरी गार्डन थाना और जिला डीसीपी कार्यालय के पुलिसकर्मियों में भय व्याप्त है। मुश्किल यह है कि न जिला डीसीपी कार्यालय और न ही थाना इस परिसर से एकदम किसी अन्यत्र जगह पर ले जाया जा सकता है।

पश्चिमी जिला पुलिस कंट्रोल रूम की एक शिफ्ट के पुलिसकर्मियों को एहतियातन करीब एक सप्ताह पहले ही होम क्वारंटाइन कर दिया गया था। इसकी नौबत तब आयी जब, पहली बार में यहां तैनात एक जवान कोरोना पॉजिटिव मिला। उल्लेखनीय है कि दिल्ली के 15 जिलों में अलग अलग कंट्रोल रूम हैं। इन सबका संचालन दिल्ली पुलिस की कम्यूनिकेशन ब्रांच करती है।

जैसे ही पश्चिमी जिला पुलिस कंट्रोल रूम में तैनात एक शिफ्ट के कर्मचारियों को होम क्वारंटाइन किया गया, उसी वक्त उन सबके सैंपल भी ले लिये गये थे। अब उन सैंपल की धीरे धीरे जो रिपोर्ट्स आ रही हैं, वे अधिकांश पुलिसकर्मियों की पॉजिटिव ही आ रही हैं। ऐसे में जिला पुलिस कंट्रोल रूम से लेकर, संचार शाखा और पुलिस मुख्यालय तक में हड़कंप मचा हुआ है।

गुरुवार को इस बारे में दिल्ली पुलिस की ऑपरेशंस एवं कम्यूनिकेशन शाखा डीसीपी एसके सिंह ने बाकायदा आदेश भी जारी किया। आईएएनएस के पास मौजूद इस आदेश के मुताबिक, पश्चिमी जिला पुलिस कंट्रोल रूम में इतनी बड़ी तादाद में कोरोना के पहुंचने से यहां कम्यूनिकेशन शाखा को कई चींजें तुरंत बंद करनी पड़ी हैं। मसलन रेडियो वर्कशाप, रेडियो स्टोर और ईपीएबीएक्स इत्यादि।

इसी आदेश में आगे लिखा है कि, यहां तैनात अधिकांश पुलिस स्टाफ को तत्काल आईसोलेशन में भेज दिया गया है। यह आईसोलेशन अवधि फिलहाल 5 दिन की तय की गयी है। हालांकि आदेश के मुताबिक, जिला पुलिस कंट्रोल रूम का एमसीआर बदस्तूर कार्य करता रहेगा। आदेश में इंचार्ज अरेंजमेंट सेल को कहा गया है कि वे, फिलहाल कंट्रोल रूम को चलाने के लिए 1प्लस4 का स्टाफ तैनात करने का इंतजाम करें।

किसी तरह से जिला पुलिस कंट्रोल रूम को पूरी तरह से ठप होने से बचाने के लिए फिलहाल जिला डीसीपी कार्यालय से बिजली लेने को कहा गया है। साथ ही इस आदेश में कंट्रोल रूम को हर शिफ्ट से पहले सेनेटाइज करने की हिदायत भी दी गयी है। आदेश के मुताबिक तो फिलहाल मेन जिला कंट्रोल रूम का पूरा स्टाफ ही 5-5 दिन को लिए होम क्वारंटाइन रहेगा। साथ ही इस कंट्रोल रूम को अस्थाई रुप से चलाने के लिए भी पॉवर-नेट पर एक टैबलेट और एक मोबाइल फोन मय चार्जर के कम्यूनिकेशन शाखा मुख्यालय (हैदरपुर, शालीमार बाग) से उपलब्ध कराया गया है।

-- आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss