मप्र : देवास में अतिक्रमण हटाने गई टीम के सामने महिला ने आग लगाई, सियासत
Thursday, 30 July 2020 19:50

  • Print
  • Email

देवास: मध्यप्रदेश के देवास जिले में अतिक्रमण हटाने गई टीम और अतिक्रमण करने वालों के बीच विवाद हो गया। सरकारी अमले ने जब फसल को जेसीबी से रौंदा डाला तब महिला आक्रोशित हो गई और उसने अपने ऊपर कोई ज्वलनशील पदार्थ डालकर आग लगा ली। महिला मामूली तौर पर झुलस गई। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होते ही कांग्रेस ने प्रदेश की शिवराज सरकार पर हमला बोला। बताया गया है कि सतवास थाना क्षेत्र के अतवास गांव में सरकारी अमला सरकारी जमीन से अतिक्रमण हटाने सरकारी अमला गया। इस सरकारी अमले पर कुछ लोगों ने पथराव भी कर दिया। जब जेसीबी मशीन को फसल पर चलाया गया तो सावरा नामक महिला सामने आई और विरोध करते हुए उसने ज्वलनशील पदार्थ अपने ऊपर डालकर आग लगा ली। इससे वहां हड़कंप मच गया। महिला मामूली तौर पर झुलसी है। इस घटना का वीडियो वायरल होते ही कांग्रेस ने सरकार पर हमला बोला है।

पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने घटनाक्रम का वीडियो साझा करते हुए ट्वीट किया, "बेहद दुखद तस्वीर। जो खुद को मामा कहलवाते हैं, उनके राज में आज एक बहन खुद को आग के हवाले कर रही है।"

उन्होंने आगे लिखा है, "मैं सरकार से मांग करता हूं कि पूरे मामले की जांच करवाकर दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई हो। घायल महिला का संपूर्ण इलाज सरकार करवाए, पीड़ित परिवार की हर संभव मदद की जाए।"

इसी तरह कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरुण यादव ने कहा कि देवास जिले के सतवास की घटना में प्रशासन ने एक किसान की खड़ी फसल पर जेसीबी चला दी, जिसकी वजह से किसान की पत्नी ने आत्मघाती कदम उठाते हुए स्वयं को आग के हवाले कर दिया। शिवराज सिंह, खड़ी फसल पर जेसीबी चलाना कहां का न्याय है?

यादव ने आगे कहा एक तो किसान पहले से ही प्रकृति की मार झेल रहे हैं और दूसरा कोरोना महामारी के चलते आर्थिक तंगी का माहौल है, ऐसे में भाजपा सरकार किसानों को सहायता करना तो दूर, उनके खेतों में खड़ी फसलों को उजाड़ने का काम कर रही है।

एक प्रशासनिक अधिकारी ने बताया कि महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss