शतरंज : ऑनलाइन ओलम्पियाड में रूस के साथ संयुक्त चैम्पियन बना भारत
Monday, 31 August 2020 07:54

  • Print
  • Email

चेन्नई: भारत और रूस के बीच रविवार को ऑनलाइन शतरंज ओलम्पियाड में खेला गया फाइनल नाटकीय अंदाज में खत्म हुआ और शतरंज की वैश्विक संस्था-फिडे ने दोनों देशों को संयुक्त रूप से विजेता घोषित कर दिया।

फिडे ने ट्वीट किया, "फिडे के अध्यक्ष आकार्डी वोरकोविच ने दोनों टीमों को ऑनलाइन शतंरज ओलम्पियाड में स्वर्ण पदक देने का फैसला किया है।"

भारतीय टीम के नॉन प्लेइंग कप्तान श्रीनाथ नारायण ने आईएएनएस से कहा, "हमें फिडे की तरफ से बताया गया है कि दूसरे मैच के दौरान हमारी तीन खिलाड़ी- के. हम्पी, निहाल सरीन और दिव्या देशमुख सर्वर में समस्या के कारण लॉग आउट हो गए थे।"

उन्होंने कहा, "हमने एक निष्पक्ष समाधान के बारे में कहा था-इन तीनों गेमों के रिप्ले को।"

भारत ने फिर अपील की। फिडे ने ट्वीट किया, "शतरंज ओलम्पियाड फाइनल के दूसरे मैच में दो भारतीय खिलाड़ियों निहाल सरीन और दिव्या देशमुख गेम के दौरान कनेक्शन टूट गया था और समय चला गया। भारत ने आधिकारिक तौर पर अपील की। इसकी अब जांच की जा रही है।"

भारत ने यह कहते हुए अपील की है कि यह समस्या चेस डॉट कॉम के कारण थी।

पहला मैच 3-3 के स्कोर पर खत्म हुआ, जिसमें सभी छह मैच ड्रॉ रहे।

भारत की हम्पी और रूस की कैटेरीना लागुओ का मैच शानदार रहा। 41वीं चाल पर हालांकि हम्पी जीत का मौका गंवा बैठीं और गेम ड्रॉ रहा। बाकी के गेम भी ड्रॉ रहे।

दूसरे मैच में भारत ने हरिकृष्णा और प्रागानंधन के स्थान पर विश्वनाथ आनंद और निहाल सरीन को उतारा। रूस ने तीन बदलाव किए। डेनिल डुबोव, आंद्रे स्पेंको और एलेक्ड्रा गोरीयाचकीना को उतारा और सारना, अर्टीमेव और लागुओ को उतारा।

दूसरे मैच में पहला गेम विदित गुजराती और डुवोव के बीच था, जिसका परिणाम ड्ऱॉ रहा। इसके बाद हरिका और आनंद ने भी ड्रॉ खेला।

--आईएएनएस

एकेयू/जेएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss