ईस्ट बंगाल ने आईएसएल में शामिल होने के लिए एफपीएआई का सहारा लिया
Friday, 31 July 2020 17:43

  • Print
  • Email

कोलकाता: भारतीय फुटबाल खिलाड़ी संघ (एफपीएआई) ने इस सीजन में फुटबाल क्लब ईस्ट बंगाल को इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) में शामिल करने के लिए अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ (एआईएफएफ) और आईएसएल के आयोजकों को शुक्रवार को एक पत्र लिखा।

आईएसएल और फुटबाल स्पोर्ट्स डेवलपमेंट (एफएसडीएल) की हाल ही में हुई एक बैठक में इस बात पर फैसला किया गया कि आयोजक इस सीजन की मौजूदा योजना के अनुसार ही चलेंगे, जिसमें 10 टीमें भाग लेंगी।

एफएसडीएल ने साफ कर दिया था कि आगामी आईएसएल सीजन में 10 टीमें ही खेलेगी, जोकि पिछले सीजन का हिस्सा थी। उन्होंने कहा था कि 2021-21 सीजन में टीमों की संख्या बढ़ाने पर विचार नहीं किया गया।

एआईएफएफ के सूत्रों का कहना है कि ये रणनीति किसी भी सूरत में सफल होने वाली नहीं हैं क्योंकि एशियाई फुटबॉल परिसंघ (एएफसी) द्वारा निर्धारित रोडमैप का पालन किए बिना ईस्ट बंगाल को देश की शीर्ष स्तरीय लीग में शामिल नहीं किया जा सकता है।

सूत्रों ने आईएएनएस से कहा, "एएफसी रोडमैप के अनुसार, किसी भी आई-लीग टीम को बोली लगाने के लिए वित्तीय मानदंडों सहित सभी आईएसएल भागीदारी मानदंडों को पूरा करना चाहिए। मोहन बागान ने एएफसी के दिशानिर्देशों को पूरा किया है। अगर अन्य को शर्तों को पूरा किए बिना ही उन्हें आईएसएल में भाग लेने की अनुमति दी जाती है, तो यह उनके लिए बहुत अनुचित होगा।"

एक अन्य अधिकारी ने कहा, " तथ्य यह है कि पिछले दो वर्षों में ईस्ट बंगाल को कई मौके दिए गए थे, लेकिन उन्होंने किसी भी चर्चा से इनकार किया। अब ऐसे प्रयासों का क्या मतलब है? ये सिर्फ प्रशंसकों को खुश रखने के लिए है।"

इस बीच, एफपीएआई ने एआईएफएफ और आईएसएल के आयोजक एफएसडीएल को पत्र लिखकर संबंधित शेयरधारकों से अनुरोध किया कि वे इस मामले का जल्दी हल निकालें और देश के सबसे बड़े क्लब को आईएसएल में शामिल करें।

एफपीएआई महासचिव साइरस कन्फेक्शनर हस्ताक्षरित पत्र में लिखा गया है, " खिलाड़ियों को अपनी आजीविका के लिए खेलने-कमाने के लिए अधिक फुटबॉल क्लबों की आवश्यकता है। खिलाड़ी और क्लब दोनों ही खेल के अस्तित्व के लिए आवश्यक हैं। इसलिए हमें क्लबों का भी समर्थन करने की आवश्यकता होती है।"

उन्होंने कहा, " संघ में हम आपसे अनुरोध करते हैं कि ईस्ट बंगाल को बिना किसी हिचकिचाहट या विलंब के आईएसएल में शामिल कर लें।"

- -आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss